सूचकांक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भारतमें उद्योगों का वितरण समरूप नहीं है। उद्योग कुछ अनुकूल अवस्थितिक कारकों से कुछ निश्चित स्थानों पर केंद्रित हो जाते हैं। उद्योगों के समूहन को पहचानने के लिए कई सूचकांकों का उपयोग किया जाता है जिनमें प्रमुख हैं-

  1. औद्योगिक इकाइयों की संख्या
  2. औद्योगिक कर्मियों की संख्या
  3. औद्योगिक उद्देश्यों के लिए उपयोग की जाने वाली प्रयुक्त शक्ति की मात्रा
  4. कुल औद्योगिक निर्गत वनजचनज-
  5. उत्पादन प्रक्रिया जन्य मूल्य आदि।