सुवा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सुवा
Suva
फिजी की राजधानी
सुवा केंद्रीय व्यापार जिला
सुवा केंद्रीय व्यापार जिला
Coat of arms of सुवा
Coat of arms
ध्येय: Valataka na Dina (अधिकार के लिए लड़ो)
फिजी के भीतर सुवा
फिजी के भीतर सुवा
देशफ़िजी
द्वीपविती लेवु
प्रभागकेन्द्रीय प्रभाग
शासन
 • प्रणालीसुवा नगर परिषद
क्षेत्रफल
 • शहर2048 किमी2 (790.5 वर्गमील)
जनसंख्या (2017)
 • शहर93,970
 • घनत्व46 किमी2 (120 वर्गमील)
 • महानगर185,913
समय मण्डल1200 GMT (यूटीसी+12)
वेबसाइटwww.suvacity.org

सुवा फ़िजी की राजधानी और सबसे बड़ा नगर है। यह शहर विती लेवु द्वीप के दक्षिण पूर्वी तट पर, केन्द्रीय प्रभाग के रेवा प्रान्त में स्थित है। सुवा, सुवा जिला और केन्द्रीय प्रभाग का प्रशासनिक केन्द्र भी है। 1882 में फिजी की राजधानी को लेवुका से बदलकर सुवा कर दिया गया था। सुवा की जनसंख्या 93,970 है (2017 जनगणना)[1] जबकि ग्रेटर सुवा शहरी क्षेत्र की जनसंख्या 185,913 (2017 जनगणना) है। [2] सुवा और उससे सटे लामी, नसीनु और नौसोरी की कुल जनसंख्या लगभग 330,000 है जो इस देश की जनसंख्या का लगभग एक तिहाई है। इस शहरी परिसर (इसमें लामी शामिल नहीं है) को सुवा-नौसोरी गलियारे के रूप में भी जाना जाता है।

सुवा फिजी का राजनीतिक, आर्थिक और सांस्कृतिक केंद्र है। यह दक्षिण प्रशांत की आर्थिक और सांस्कृतिक राजधानी भी है। यहाँ सभी क्षेत्रीय प्रमुख निगमों के मुख्यालयों के साथ-साथ, अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियों और राजनयिक मिशनों के कार्यालय भी स्थित हैं। सुवा इस क्षेत्र की फैशन राजधानी होने के साथ कला और संस्कृति का केन्द्र भी है।

इतिहास[संपादित करें]

सुवा, फिजी, 1920

1868 में बाउ द्वीप के सरदार, सेरू एपेनिसा कैकोबाऊ ने संयुक्त राज्य अमेरिका का अपना बकाया ऋण चुकाने के बदले ऑस्ट्रेलिया में स्थित पोलिनेशिया कंपनी को 5,000 किमी 2 (1,900 वर्ग मील) जमीन दे दी, जिसमें से 575 वर्ग किमी (222 वर्ग मील) जमीन स्थानीय सुवा गाँव के समीप थी। जमीन लेने का मूल उद्देश्य कपास कृषि उद्योग को विकसित करना था, लेकिन यहाँ की भूमि और जलवायु इसके लिए अनुपयोगी साबित हुई।

1874 में फ़िजी द्वीप समूह पर यूनाइटेड किंगडम के कब्जे के बाद, 1877 में औपनिवेशिक अधिकारियों ने राजधानी को लेवुका, ओवलाऊ, लोमाविती के स्थान पर सुवा से ले जाने का फैसला किया, क्योंकि लेवुका दो ओर से ऊँचे पहाड़ और एक ओर से समुद्र घिरा था जिसके कारण शहर का विस्तार करना प्राय असंभव था। 1882 में इस स्थानांतरण को आधिकारिक बना दिया गया था। 1875 में रॉयल इंजीनियर्स के कर्नल एफ ई प्रैट को यहाँ का महा सर्वेक्षक नियुक्त किया गया, जिन्होने सुवा शहर की आयोजना भी की, और इस कार्य में उनका साथ डब्ल्यू स्टीफंस और कर्नल आर.डब्ल्यू. स्टीवर्ट ने दिया।

1909 में नगरपालिका संविधान अध्यादेश की घोषणा के बाद, 1910 में सुवा को नगर पालिका का दर्जा मिल गया। शुरू में सुवा शहर का क्षेत्रफल सिर्फ एक वर्ग मील का था; और यह 1952 में तब तक बरकरार रहा जब मुआनिकाउ और समबुला वार्डों का विलय सुवा में कर दिया गया और इसके इसका क्षेत्र बढ़ कर 13 वर्ग किमी (5.0 वर्ग मील) हो गया। उसी वर्ष अक्टूबर में, सुवा को फिजी का पहला शहर घोषित किया गया। बाद में तमावुआ को भी सुवा से जोड़ दिया गया। शहर की सीमाओं का सबसे हालिया विस्तार शहर के उत्तर में कनिंघम क्षेत्र को शामिल कर के किया गया। शहरी फैलाव के कारण ऐसे कई उपनगर हैं जो वैसे तो सुवा शहर की आधिकारिक सीमा से बाहर हैं; पर शहर के साथ मिलकर, वे एक महानगरीय क्षेत्र बनाते हैं जिसे ग्रेटर सुवा क्षेत्र (बृहत्तर सुवा क्षेत्र) के नाम से जाना जाता है।

शहर ने 2003 के दक्षिण प्रशांत खेलों की तीसरी बार की मेजबानी की। खेलों की मेजबानी करने के लिए, एक नयी व्यायामशाला, एक इनडोर स्पोर्ट्स सेंटर, तरणताल और स्टेडियम; फील्ड हॉकी मैदान आदि का निर्माण सूवा के आसपास के क्षेत्र में किया गया और जिसके लिए धन फिजी की सरकार और चीन द्वारा दी गयी $16 मिलियन की सहायता राशि से प्राप्त हुआ।

भूगोल एवं भौतिक विशेषताएं[संपादित करें]

सुवा, एक प्रायद्वीप पर बसा एक बंदरगाह शहर और फिजी की राजधानी है। सुवा में आधुनिक और पारंपरिक औपनिवेशिक वास्तुकला वाली इमारतें मौजूद हैं।

शहर लुइसाला खाडी और सुवा बंदरगाह के बीच एक पहाड़ी प्रायद्वीप पर स्थित है, जो विती लेवु के दक्षिण-पूर्वी कोने में स्थित है। उत्तर और पश्चिम में उपस्थित पहाड़ दक्षिण-पूर्व की व्यापार पवन को रोकते हैं, जिससे हवा वर्ष भर नम बनी रहती है।

सुवा फिजी का वाणिज्यिक और राजनीतिक केंद्र है, हालांकि इसको सांस्कृतिक केंद्र नहीं कहा जा सकता। यह फ़िजी का मुख्य बंदरगाह शहर है।

हालाँकि सुवा एक प्रायद्वीप पर बसा है, और लगभग समुद्र से घिरा हुआ है, निकटतम समुद्र तट प्रशांत हार्बर पर 40 किलोमीटर (25 मील) दूर है और पास के तट मैंग्रोव से घिरे है। शहर के केंद्र का एक महत्वपूर्ण हिस्सा जिसमें पुराना संसद भवन भी शामिल है मैंग्रोव दलदल के भूमि-पुनरुद्धार द्वारा प्राप्त भूमि पर बनाया गया है।

चित्र दीर्घा[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]