सुरिंदर सिंह सोढ़ी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सुरिंदर सिंह सोढ़ी एक पूर्व भारतीय हॉकी खिलाड़ी हैं। वह 1980 में ग्रीष्मकालीन ओलंपिक, मास्को में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय हॉकी टीम का हिस्सा थे।[1] इस ओलंपिक में सुरिंदर ने रिकॉर्ड 15 गोल किये।[2] 1978 में पंजाब सरकार ने उन्हें महाराजा रणजीत सिंह पुरस्कार से सम्मानित किया।[3] वह 1978 में एशियाई खेलों की रजत पदक विजेता भारतीय टीम के हिस्सा भी थे। साल 2016 में सुरिंदर सोढी पंजाब पुलिस में आईजी पद से रिटायर हुए। रिटायर होने के बाद वह राजनीती में आ गए और आम आदमी पार्टी से जुड़े बाद में वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से जुड़ गये।[4]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "यादें: आज के दिन 35 साल पहले भारतीय हॉकी टीम ने मास्‍को ओलंपिक में जीता था GOLD". News18 India. 2015-07-29. अभिगमन तिथि 2019-11-29.
  2. Sabharwal, Gopa (101-01-01). 1947 ke baad ka Bharat by Gopa Sabharwal. Prabhat Prakashan. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-93-5322-225-3. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  3. Automation, Bhaskar (2019-07-11). "1978 में सुरिंदर सिंह सोढी बने थे राज्य के पहले महाराजा रणजीत सिंह अवॉर्डी". Dainik Bhaskar. अभिगमन तिथि 2019-11-29.
  4. "हॉकी ओलंपियन सुरिंदर सोढ़ी 'आप' छोड़ कांग्रेस में हुए शामिल". Dainik Jagran. अभिगमन तिथि 2019-11-29.