सुरगाणा रियासत

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सुरगाणा रियासत ब्रिटिश राज के काल में बॉम्बे प्रेसीडेंसी की एक देशी रियासत थी। यह नासिक एजेंसी से संबंधित एकमात्र राज्य था। इसकी राजधानी वर्तमान महाराष्ट्र के नासिक जिले में सुरगना थी। सुरगना राज्य के अंतिम कोली शासक ने मार्च 1948 में भारत में शामिल होने के प्रस्ताव पर हस्ताक्षर कर दिए।[1]

सुरगाणा रियासत
ब्रिटिश भारत
१७वीं शताब्दी – 1948
Flag राज्य-चिह्न
Flag Coat of arms
स्थिति सुरगाणा
राजधानी सुरगाणा
इतिहास
 - स्थापना १७वीं शताब्दी
 - भारतीय स्वतन्त्रता 1948
क्षेत्रफल
 - 1901 932.4 किमी² (360 वर्ग मील)
जनसंख्या
 - 1901 11,532 
     घनत्व एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह ","। /किमी²  (एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह ","। /वर्ग मील)
 - 1921 14,912 
वर्तमान भाग महाराष्ट्र, भारत

[[श्रेणी:१७वीं शताब्दी में स्थापित देश या क्षेत्र]]

इतिहास[संपादित करें]

सुरगाना राज्य की स्थापना 1800 के दशक से पहले हुई थी। 1818 में सुरगना राज्य ब्रिटिश समझोते मे आया।[2] अंग्रेजों ने भीकाजी राव को मराठाओं के खिलाफ मदद करने के लिए नया प्रमुख बनाया। भीकाजी राव की हत्या मल्हार राव की मां और उनके बहनोई पिलाजी के कारण हुए दंगे में हुई थी। पिलाजी को अंग्रेजों ने पकड़ लिया और मार डाला। 1846 में मल्हारराव के वंशजों को राज्य के राजस्व में हिस्सेदारी की अनुमति दी गई और उन्हें 1877 में भत्ता अनुदान प्रदान किया गया। राज्य के प्रमुख के पास 1921 से 1947 तक चैंबर्स ऑफ प्रिंसेस के एक प्रतिनिधि सदस्य का चुनाव करने का अधिकार था। मार्च 1948 मे कोली राजा धैर्यशिलराव पवार ने सुरगाणा रियासत को भारत मे पूरी तरह से सामिल कर दिया।

बाद में धैर्यशिलराव ने 1952-1968 और 1972-1978 में राज्य सभा के सदस्य के रूप में भी कार्य किया।

शासकों की सूची[संपादित करें]

सुरगाणा रियासत के शासक कोली जाति से थे[3][4][5][6][7] एवं देशमुख की उपाधि धारण किए हुए थे।[2][8]

  • 1800 - 1818....
  • 1818 - 1819 मल्हार राव (मृत्यु 1819)
  • 1819 - 1820 भीकाजी राव
  • 1820 - 1854 जशवंत राव भीकाजी राव
  • 1854 - 1867 मुवर राव
  • 1867 - 2 जून 1898 शंकर राव रवि राव (जन्म 1849 - मृत्यु ....)
  • 1898 - 22 जून 1930 प्रताप राव शंकर राव (जन्म 18 अगस्त 1880 - मृत्यु 1930)
  • 1930 - 1936 जशवंत राव II प्रताप राव (जन्म 1902 - मृत्यु ....)
  • अप्रैल १ ९ ३६ - १५ अगस्त १ ९ ४ धैर्यशिल राव जशवंत राव (जन्म १ ९ २२ - मृत्यु २००३)

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "1911 Encyclopædia Britannica/Bombay Presidency - Wikisource, the free online library". en.m.wikisource.org. अभिगमन तिथि 2020-05-19.
  2. "Indian Princely States K-Z". www.worldstatesmen.org. मूल से 26 दिसंबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2020-05-19.
  3. W. Ramsay; John Pollen; James M. Campbell (1880). Gazetteer of the Bombay Presidency Volume XII Khandesh. Bombay, Government Central Press.
  4. Lethbridge, Sir Roper (2005). The Golden Book of India: A Genealogical and Biographical Dictionary of the Ruling Princes, Chiefs, Nobles, and Other Personages, Titled Or Decorated of the Indian Empire (अंग्रेज़ी में). Aakar Books. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-81-87879-54-1. मूल से 14 अगस्त 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 मई 2020.
  5. "महाराष्ट्र". मूल से 6 फ़रवरी 2018 को पुरालेखित.
  6. KARR, G. B. SETON (1855). ROUGH NOTES. BOMBAY EDUCATION SOCIETY’S PRESS, BOMBAY.
  7. Selections from the Records of the Bombay Government (अंग्रेज़ी में). Government at the Bombay Education Society's Press. 1856.
  8. "Indian states before 1947 K-W". rulers.org. मूल से 9 मार्च 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2020-05-19.