सुनन अल-दारकुतनी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

सुनन अल-दारकुतनी (अंग्रेज़ी:Sunan al-Daraqutni) प्रसिद्ध मुहद्दिस (हदीस कलेक्टर) इमाम अल-दारकुत्नी (306 - 385 हिजरी) द्वारा संकलित हदीस की प्रसिद्ध पुस्तकों में से एक है। [1]

इसमें केवल वे परंपराएं शामिल हैं जो न्यायशास्त्र के नियमों से संबंधित हैं।

अल-मकतबा अल-शमीला के अनुसार इस किताब में हदीसों की कुल संख्या 4836 है।

अन्य भाषाओं में भी इसका अनुवाद हुआ।

सुन्नी इस्लाम की कुतुब अल-सित्ताह -सहाह सत्ता (छह प्रमुख हदीस संग्रह) के साथ इसे भी महत्वपूर्ण माना जाता है।

हदीस-संग्रह[संपादित करें]

हदीस के निम्नलिखित छः विश्वसनीय संग्रह हैं जिनमें 29,578 हदीसें संग्रहित हैं :

  1. सहीह बुख़ारी : संग्रहकर्ता—अबू अब्दुल्लाह मुहम्मद-बिन-इस्माईल बुख़ारी, हदीसों की संख्या—7225
  2. सहीह मुस्लिम : संग्रहकर्ता—अबुल-हुसैन मुस्लिम बिन अल-हज्जाज, हदीसों की संख्या—4000
  3. जामी अत-तिर्मिज़ी : संग्रहकर्ता—अबू ईसा मुहम्मद बिन ईसा तिर्मिज़ी, हदीसों की संख्या—3891
  4. सुनन अबू दाऊद : संग्रहकर्ता—अबू दाऊद सुलैमान बिन अशअस सजिस्तानी, हदीसों की संख्या—4800
  5. सुनन अन-नसाई : संग्रहकर्ता—अबू अब्दुर्रहमान बिन शुऐब ख़ुरासानी, हदीसों की संख्या—5662
  6. सुनन इब्ने माजह : संग्रहकर्ता—मुहम्मद बिन यज़ीद बिन माजह, हदीसों की संख्या—4000

यह भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Sunan Al-Daraqutni". अभिगमन तिथि Apr 28, 2019.