सुखोई एसयू-57

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सुखोई एसयू-57
Su-57
एसयू-57 के लिए एक टी -50 प्रोटोटाइप
प्रकार स्टैल्थ एयर श्रेष्ठता लड़ाकू विमान
उत्पत्ति का देश Flag of Russia.svg रूस
उत्पादक सुखोई
प्रथम उड़ान 29 जनवरी 2010[1]
परिचय 2019 (योजना)[2][3][4][5]
स्थिति अंतिम उड़ान परीक्षण/पूर्व-उत्पादन[6]
प्राथमिक उपयोक्तागण रूसी वायु सेना
रूसी नौसेना[7]
निर्मित 2009–वर्तमान
निर्मित इकाई 9 उड़ने योग्य प्रोटोटाइप[8][9]
कार्यक्रम लागत अमेरिकी डॉलर 8–10 अरब (अनुमान)[10][11][12]
इकाई लागत टी-50: अमेरिकी $5 करोड़[13]
अंतरण सुखोई/एचएएल एफजीएफए

सुखोई एसयू-57 (Sukhoi Su-57) एक श्रेष्ठ, सिंगल सीट, दो इंजन जेट के लिए डिजाइन किया गया मल्टीरोल लड़ाकू विमान है[14] जो हवाई श्रेष्ठता और हमले के संचालन के लिए डिजाइन किया गया है।[15] विमान पीएके एफए का उत्पाद है, जो रूसी वायु सेना के पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू कार्यक्रम है। विमान के लिए सुखोई का आंतरिक नाम टी-50 है। स्टैल्थ प्रौद्योगिकी का उपयोग करने वाला रूसी सैन्य सेवा में एसयू-57 पहला विमान होगा। पहले पीढ़ी के लड़ाकू विमानों के मुक़ाबले सुखोई एसयू-57 मे जमीन और समुद्री सुरक्षा के लिए लड़ाकू विमान को सुपरक्रूज, चुपके, सुपरमैन्युएवरबिलिटी और उन्नत एविऑनिक्स से लैस किया जाएगा।[16][17]

लड़ाकू विमान रूस वायु सेना में मिग-29 और सुखोई एसयू-27 के बाद सबसे अच्छा विमान होने वाला है। सुखोई एसयू-57 भारतीय वायु सेना के लिए सुखोई और हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा सह-विकसित पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमान (एफजीएफए) मे भी मदद करेगा।[18][19] प्रोटोटाइप ने पहली बार 29 जनवरी 2010 को उड़ान भरी और 2018 में रूसी वायु सेना के लिए उत्पादन का विमान शुरू होने वाला है।[20] प्रोटोटाइप और प्रारंभिक उत्पादन बैच का उत्पादन शुरू हो गया है। विमान से 35 साल तक सेवा होने की संभावना है।[21]

संचालन इतिहास[संपादित करें]

परिक्षण[संपादित करें]

मार्च 9, 2014 में 952वें राज्य उड़ान परीक्षण केंद्र (जीएलआईटीएस) को पहला टी-50 प्रोटोटाइप परीक्षण के लिए मिला। और रूसी वायु सेना के कमांडर-इन-चीफ लेफ्टिनेंट जनरल विक्टर बॉन्डारेव ने कहा कि प्रारंभिक टी-50 लड़ाकू विमान का उत्पादन 2016 में शुरू होने की संभावना है। लड़ाकू विमान के मई 2014 में बाहरी हथियार परीक्षण शुरू हुए।

निर्यात[संपादित करें]

सुखोई बताते हैं कि पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमान (एफजीएफए) का मुख्य निर्यात लाभ अमेरिका के मौजूदा पांचवीं पीढ़ी जेट लड़ाकू विमानों की तुलना मे लागत कम होना है। रूस ने दक्षिण कोरिया के अगली पीढ़ी के जेट लड़ाकू के लिए पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमान (एफजीएफए) की पेशकश की गई थी। दक्षिण कोरिया की रक्षा खरीद एजेंसी ने पुष्टि की कि सुखोई एफजीएफए रिपब्लिक ऑफ कोरिया वायु सेना के अगली पीढ़ी के लड़ाकू विमान के लिए एक उम्मीदवार था। हालांकि, सुखोई ने जनवरी 2012 की समयसीमा से बोली प्रस्तुत नहीं की थी। रूस के सेंटर फॉर एनालिसिस ऑफ वर्ल्ड आर्म्स ट्रेड का अनुमान है कि 2025 में एफजीएफए निर्यात के लिए उपलब्ध होगा; हालांकि इसमें भारत के लिए सुखोई/एचएएल एफजीएफए,प्राथमिक निर्यात संस्करण शामिल भी हो सकता है।

2013 में, रूस ने ब्राजील के लिए अगली पीढ़ी के लड़ाकू विमानों को टी-50 के आधार पर विकसित करने में मदद करने के लिए एक अनचाहे कॉल किया था।

दुर्घटनाएं[संपादित करें]

10 जून 2014 को, पांचवां उड़ान प्रोटोटाइप, विमान टी -50-5, लैंडिंग के बाद इंजन की आग से गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो गया। पायलट बिना क्षतिग्रस्त हुए विमान से बाहर निकलने मे कामयाब रहा। सुखोई ने कहा कि विमान की मरम्मत की जाएगी, और यह आग "टी -50 परीक्षण कार्यक्रम के समय को प्रभावित नहीं करेगा।"[22][23]

निर्दिष्टीकरण (टी-50)[संपादित करें]

Т-50 3 views.svg

एविएशन समाचार,[24] एविएशन वीक,[25] एयर इंटरनेशनल,[26] लड़ाकू विमान[27] से डेटा

सामान्य लक्षण

  • चालकदल: 1
  • लंबाई: 19.8 मीटर (65 फुट)
  • पंख फैलाव: 13.95 मीटर (45 फुट 10 इंच)
  • ऊंचाई: 4.74 मीटर (15 फुट 7 इंच)
  • पंख क्षेत्र: 78.8 मीटर² (848.1 फुट²)
  • खाली वजन: 18,000 किलोग्राम (39,680 पौंड)
  • उपयोगी भार: 25,000 किलोग्राम (55,115 पौंड) मिशन वजन, 29,270 किलोग्राम (64,530 पौंड) पूर्ण भार पर
  • अधिकतम उड़ान वजन: 35,000 किलोग्राम (77,160 पौंड)
  • ईंधन क्षमता: 10,300 कि॰ग्राम (22,700 पौंड)[28]
  • पावर प्लांट: 2 × सैर्टन एल-41 आरंभिक उत्पादन के लिए, izdeliye 30 बाद के उत्पादन के लिए[29] टर्बोफैन
    • मूल थ्रस्ट: 93.1 किलोन्यूटन / >108 किलोन्यूटन (21,000 पौंड बल / >24,300 पौंड बल) प्रत्येक से
    • आफ्टरबर्नर के साथ थ्रस्ट: 147 किलोन्यूटन / 178 किलोन्यूटन (33,067 पौंड बल / 40,016 पौंड बल) प्रत्येक से

प्रदर्शन

  • अधिकतम गति:
    • ऊंचाई पर: मैक 2 (2,140 किमी/घंटा; 1,320 मील प्रति घंटा)[27]
    • सुपरक्रूज: मैक 1.6 (1,700 किमी/घंटा; 1,060 मील प्रति घंटा)
  • रेंज: 3,500 किमी (2,175 मील) सबसोनिक
    • 1,500 किमी (930 मील) सुपरसोनिक[29]
  • अधिकतम सेवा सीमा: 20,000 मीटर (65,000 फुट)
  • विंग लोडिंग: 317–444 किलोग्राम/मीटर² (65–91 पौंड/फुट²)
  • थ्रस्ट/वजन:
    • AL-41F1: 1.02 (1.19 मिशन वजन पर)
    • izdeliye 30: 1.16 (1.36 मिशन वजन पर)
  • अधिकतमg-भार: +9 g[30]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Russia draws back veil of secrecy with peek at future fighter". RIA Novosti. 29 January 2012. अभिगमन तिथि 29 January 2010.
  2. https://sputniknews.com/military/201705241053927709-russia-t50-500/
  3. sputniknews.com 4 July 2016
  4. Gady, Franz-Stefan (28 September 2015). "Russia's First 5th Generation Fighter Jet to Enter Service in 2017". thediplomat.com. The Diplomat. अभिगमन तिथि 29 September 2015.
  5. Druzhinin, Alexei (25 April 2013). "New T-50 Fighter Jet to Enter Service in 2016 – Putin". RIA Novosti. अभिगमन तिथि 25 April 2013.
  6. "Flight tests of Russia's advanced PAK-FA fighters almost completed - Sukhoi". Sputnik (news agency). 2016-07-04.
  7. Druzhinin, Alexei (28 September 2009). "Russian Navy to get fifth generation carrier fighter after 2020". RIA Novosti. अभिगमन तिथि 26 January 2011.
  8. Коц, Андрей (8 August 2017). "Эволюция ПАК ФА. Как менялся российский истребитель пятого поколения" (रूसी में). RIA Novosti. गायब अथवा खाली |url= (मदद); |access-date= दिए जाने पर |url= भी दिया होना चाहिए (मदद)
  9. Ведмеденко, Илья (7 August 2017). "Новый экземпляр Су-57 совершил свой первый полет, — источник". Naked Science (रूसी में). अभिगमन तिथि 12 August 2017.
  10. Pandit, Rajat (10 October 2009). "India, Russia to ink new military pact". Times of India.
  11. Shukla, Ajai (5 January 2010). "India, Russia close to PACT on next generation fighter". Business Standard.
  12. Shukla, Ajai (6 January 2010). "India to develop 25% of fifth generation fighter". Business Standard.
  13. "Defence International 2011/02 P.35 (Chinese) [official Russian estimate]".
  14. "Встречайте Су-57. Новый-старый знакомый". Россия 24. Aug 11, 2017.
  15. "Russia's 5th-generation fighter jet named as Su-57". TASS (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2017-08-11.
  16. Sukhoi (21 February 2014). Т-50-2 fighter aircraft made the flight to Akhtubinsk. प्रेस रिलीज़. http://www.sukhoi.org/eng/news/company/?id=5386. अभिगमन तिथि: 5 March 2014. 
  17. Sukhoi (29 January 2010). Sukhoi Company launches flight tests of PAK FA advanced tactical frontline fighter. प्रेस रिलीज़. http://sukhoi.org/eng/news/company/?id=3143. अभिगमन तिथि: 26 January 2011. 
  18. Unnithan, Sandeep (29 September 2008). "India, Russia to have different versions of same fighter plane". India Today.
  19. Cohen, Ariel (16 January 2009). "Russia bets on new Sukhoi fighter to match F-35". United Press International.
  20. "Russia's T-50 stealth fighter in tests for integration with missiles". NewsGhana.com.gh. News Ghana. Feb 22, 2017. अभिगमन तिथि 22 Feb 2017.
  21. Druzhinin, Alexei. "Russian Air Force to buy over 60 fifth-generation fighters". RIA Novosti. अभिगमन तिथि 26 January 2011.
  22. "Russian T-50 PAK FA fighter prototype catches fire". अभिगमन तिथि 14 November 2014.
  23. "T-50 Fighter Jet Fire Near Moscow Not to Affect Test Run". RIA Novosti.
  24. Butowski 2012, p. 48-52.
  25. "Sukhoi T-50 Shows Flight-Control Innovations". अभिगमन तिथि 14 November 2014.
  26. Butowski, Piotr. "Raptorski's Maiden Flight". Air International, Vol. 78, No 3, March 2010, pp. 30–37. Stamford, UK: Key Publishing.
  27. Butowski, Piotr. "Russian Raptor?". Combat Aircraft, January 2016, pp. 52–57. Stamford, UK: Key Publishing.
  28. "PAK-FA Sukhoi T-50." warfare.ru. Retrieved: 26 January 2011.[मृत कड़ियाँ]साँचा:Cbignore
  29. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; Air International October 2013 p79 नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।
  30. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; ruaviation_g_load नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।