सिलसिला है प्यार का

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सिलसिला है प्यार का
सिलसिला है प्यार का.jpg
सिलसिला है प्यार का का पोस्टर
निर्देशक श्रबानी देवधर
अभिनेता करिश्मा कपूर,
चन्द्रचूढ़ सिंह,
डैनी डेन्जोंगपा
संगीतकार जतिन ललित
प्रदर्शन तिथि(याँ) 1999
देश भारत
भाषा हिन्दी

सिलसिला है प्यार का 1999 की श्रबानी देवधर द्वारा निर्देशित हिन्दी भाषा की प्रेमकहानी फ़िल्म है। इसमें करिश्मा कपूर, चन्द्रचूढ़ सिंह और डैनी डेन्जोंगपा मुख्य भूमिकाओं में हैं।[1] अन्य कलाकारों में शक्ति कपूर, आलोक नाथ, जॉनी लीवर, अरुणा ईरानी, टीकू तलसानिया और दीना पाठक शामिल हैं।

संक्षेप[संपादित करें]

वंशिका माथुर (करिश्मा कपूर) अनाथ है जो अपनी चाची (अरुणा ईरानी) के साथ रहती है। वह मध्यम वर्ग की लड़की है जिसे नौकरी की सख्त तलाश है। आखिरकार उसे एक बहुत सफल व्यवसायी श्री सिन्हा (आलोक नाथ) के यहाँ नौकरी मिलती है। श्री सिन्हा एक विधुर हैं जिनका पुत्र अभय (चन्द्रचूढ़ सिंह) हैं। अभय अपने चार बार तलाक लिये मामा, राकेश (शक्ति कपूर), के साथ बड़ा हुआ है। उनका आदर्श वाक्य है "अविवाहित रहें और मुक्त जीवनशैली जिये"। अभय अपने चाचा से काफी प्रभावित हैं और तेजतर्रार, घमंडी, बिगड़ा हुआ छोकरा हैं जिसने कभी परिवार के कारोबार में एक दिन का काम भी नहीं किया है।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी गीत समीर द्वारा लिखित; सारा संगीत जतिन-ललित द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."ये दिल दीवाना है"कुमार सानु, अनुराधा पौडवाल4:54
2."ये सिलसिला है प्यार का"अलका याज्ञनिक, कुमार सानु4:40
3."ऐ मामा हां भांजे"उदित नारायण, विनोद राठोड़4:45
4."लो लो जी मैं आ गयी"अलका याज्ञनिक4:15
5."ये सिलसिला है प्यार का"वाद्य यंत्र4:15
6."ये सिलसिला है प्यार का"अलका याज्ञनिक0:29
7."आज रात आयेगा मजा"चित्रा4:57
8."ये दिल दीवाना है"वाद्य यंत्र4:54
9."सुनो सुनो लड़कियों"अमित कुमार6:21
10."पड़ोसन के घर"अनुराधा पौडवाल4:04

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "'दाग द फायर' से अब तक इतने बदले चंद्रचूड़, सीरियल में दिखेगा नया अवतार". दैनिक भास्कर. 27 मई 2016. अभिगमन तिथि 1 अगस्त 2018.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सिलसिला है प्यार का इंटरनेट मूवी डेटाबेस पर