सिलसिला बदलते रिश्तों का

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सिलसिला बदलते रिश्तों का भारतीय हिन्दी धारावाहिक है, जिसका प्रसारण कलर्स पर 4 जून 2018 से शुरू हुआ था। इसका निर्माण स्फेयर ओरिजिंस के बैनर तले, सूजोय वाधवा ने किया है। इसमें मुख्य किरदार में दृष्टि धामी, अदिति शर्मा, शक्ति अरोड़ा और अभिनव शुक्ला हैं।

कहानी[संपादित करें]

ये कहानी दो बचपन के दोस्तों, नंदिनी और मौली के बारे में है, जो पिछड़ने के सात सालों के बाद मिलते हैं। मौली की कुणाल से तीन साल पहले शादी हो जाती है, दोनों एक दूसरे बहुत प्यार करते हैं और हर मामले में एक दूसरे की मदद करते हैं। वहीं नंदिनी की शादी सात साल पहले राजदीप से होती है, जो एक व्यापारी होता है और अपने बीवी पर मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित करता है।

राजदीप को पता चलता है कि वो बाप बनने वाला है। उसे कोई बच्चा नहीं चाहिए होता है, इस कारण वो नंदिनी को मारता है और बीच सड़क में छोड़ कर चले जाता है। कुणाल उसे देखता है और अस्पताल ले जाता है। वहाँ मौली उसका इलाज करती है। लेकिन बच्चे को बचा नहीं पाती। नंदिनी अस्पताल में मौली और कुणाल को राजदीप के बारे में सारी बात बताती है। वे लोग उसे अपने घर ले जाते हैं और उसे राजदीप की पुलिस में रिपोर्ट लिखाने की सलाह देते हैं। पुलिस उसे घरेलू हिंसा के मामले में गिरफ्तार कर लेती है।

एक दिन कुणाल को एहसास होता है कि वो नंदिनी से प्यार करने लगा है। वो अपने आप को याद दिलाता है कि उसकी बीवी है। नंदिनी से बार बार न मिलना पड़े, इस कारण वो मौली से नंदिनी को उसके अपने घर रहने के लिए मनाता है। नंदिनी को भी लगता है कि वो कुणाल और मौली की शादीशुदा जिंदगी में दखल दे रही है, और वो भी जाने का फैसला करती है। जेल से छूटने के बाद राजदीप बदला लेने की सोचता है, और वो नंदिनी के सामने सुधरने का नाटक करता है। नंदिनी उसे सच मान कर उसे दूसरा मौका दे देती है, पर जल्द ही उसे पता चल जाता है कि वो नाटक कर रहा था। वो उसे तलाक देने का फैसला करती है, पर राजदीप इंकार कर देता है। कुणाल का परिवार कुणाल की दादी के लिए मंदिर जाता है। वहाँ नंदिनी को एहसास होता है कि वो कुणाल से प्यार करने लगी है। वो दोनों वापस आने के बाद इसे छिपाने का फैसला करते हैं।

नंदिनी शहर छोड़ कर जाने का फैसला करती है, क्योंकि वो अपने आप को अपने भाव को जाहीर करने से रोक नहीं पाती है। जब कुणाल को ये पता चलता है तो वो बस अड्डे तक जा कर उसे रोक लेता है और वहाँ दोनों अपने प्यार का इकरार करते हैं। उस दिन के बाद से नंदिनी और कुणाल गुप्त तरीके से एक दूसरे से मिलने लगते हैं। जब मौली को पता चलता है कि कुणाल उससे नहीं, बल्कि नंदिनी से प्यार करता है तो वो टूट सी जाती है और तलाक देने का फैसला करती है। अदालत में उन दोनों को शादी बचाने के लिए एक महीने का समय मिलता है।

कलाकार[संपादित करें]

मुख्य
कुणाल बच्चों का डॉक्टर है, जिसे अपने काम से बहुत ज्यादा प्यार करता है और अपना खुद का क्लीनिक खोलना चाहता है।
मौली स्त्रियों की डॉक्टर है, जो कुणाल की पत्नी और नंदिनी की बचपन की दोस्त है, जो कुणाल से बहुत प्यार करती है, पर अपने काम में व्यस्त होने के कारण अपने निजी जीवन को ज्यादा समय नहीं दे पाती है।
घरेलू हिंसा का शिकार, नंदिनी एक घरेलू महिला है, जो अपने पति के स्वभाव से तंग आ चुकी है, पर फिर भी कोशिश करते रहती है कि उसका पति सुधर जाये।
राजदीप एक व्यापारी है, जो अपनी पत्नी, नंदिनी को मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित करते रहता है। कभी कभी दूसरे लोगों के सामने भी अपने इस तरह के स्वभाव को सामने ले आता है।
अन्य
  • जया भट्टाचार्य - यामिनी मल्होत्रा, कुणाल की माँ
  • रोमा बाली - मौली की माँ
  • राज सिंह - मयंक
  • प्राची ठक्कर - स्वीटी
  • सरिता जोशी - सुभद्रा
  • अर्जुन अनेजा - मनन

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]