सिन्दहिन्द

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ज़िज अल-सिन्दहिन्द या ज़िज अल-सिन्दहिन्द अल-कबीर भारत में रचित एक ज्योतिषीय ग्रन्थ है जिसमें खगोलीय पिण्डों की स्थिति की गणना करने के लिये सारणियाँ दी गयीं हैं। अरबी-फारसी में इस प्रकार के ज्योतिषीय ग्रन्थों को 'ज़िज' (Zīj) कहा गया है। 'सिन्दहिन्द' शब्द 'सिद्धान्त' से आया है जो 'सिद्धान्त ज्योतिष' या 'गणित ज्योतिष' का सूचक है। इसकी रचना ७७० ई के आसपास बगदाद के खलीफा अल मंसूर के दरबार में हुई। अल मंसूर ने संस्कृत से इस ग्रन्थ को अनूदित करने के लिये मुहम्मद अल-फज़ारी को नियुक्त किया था।