सारा कॉलरिज

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Sara Coleridge
Sara Coleridge 7.jpg
जन्म23 दिसम्बर 1802
Keswick, Cumberland, England
मृत्यु3 मई 1852(1852-05-03) (उम्र 49)
London, England
व्यवसायTranslator
राष्ट्रीयताEnglish
जीवनसाथीHenry Nelson Coleridge
सन्तानHerbert Coleridge, Edith Coleridge, Berkeley Coleridge, Florence Coleridge, Bertha Fanny Coleridge
सम्बन्धीSamuel Taylor Coleridge (father)
Hartley Coleridge (brother)
Derwent Coleridge (brother)

सारा कॉलरिज (23 दिसम्बर 1802 – 3 मई 1852) एक अंग्रेजी लेखक और अनुवादक थी। वह शमूएल टेलर कॉलरिज और उसकी पत्नी सारा फ्रिक्क्र का तीसरा बच्चा और इकलौती बेटी थी। 

प्रारंभिक जीवन[संपादित करें]

कॉलरिज का जन्म ग्रेटा हॉल, केशविक में हुआ था।[1] यहां 1803 के बाद, कॉलरिज जन, रॉबर्ट साउथी और उनकी पत्नी (श्रीमती कॉलिरिज की बहन), और श्रीमती लोवेल (दूसरी बहन), क्वेकर कवि, रॉबर्ट लोवेल की विधवा, सभी एक साथ रहते थे; लेकिन कॉलिरिज अक्सर घर से दूर होती थी; और अंकल साउथी एक पैटरफैमिलिया (रोमन परिवार में सभ से बजुर्ग मर्द) थे। ग्रासमेर में वर्ड्सवर्थ्स उनके पड़ोसी थे। [2]

सारा के बेटे हर्बर्ट Coleridge

वर्ड्सवर्थ, अपनी कविता, ट्राएड में हमें एक विवरण, या सारा कॉलरिज के शब्दों में कविता में तीन लड़कियों: उनकी बेटी डोरा, एडिथ साउथी और सारा कोलेरीज, जो तीनों में से सबसे आखिर में है, हालांकि सबसे बढ़ी थी,  की प्रशंसा छोड़ गए हैं।[3]ग्रेटा हॉल सारा कोलेरिज की शादी तक उसका घर था; और केवल छोटी लेक कालोनी उसे अपना स्कूल लगता है।साउथी द्वारा निर्देशित, और उसके आदेश में पर्याप्त पुस्तकालय के साथ, उसने मुख्य ग्रीक और लैटिन क्लासिक्स पढ़े, और इससे पहले कि वह पच्चीस की होती उसने  फ्रांसीसी, जर्मन, इतालवी और स्पेनिश भी सीख लिया था[2][4]

कैरियर[संपादित करें]

सारा की बेटी एडिथ Coleridge

1822 में, सारा कोलेरिज ने एबिपोन का लेखा, मार्टिन डॉब्रिज़फफर के तीन बड़े खंडों में एक अनुवाद का प्रकाशन किया,[5] जो साउथी के टेल ऑफ़ प्रेगनेंसी के संबंध में किया गया था, जिसे डोबरिज़ॉफ़फर के संस्करणों ने उसे सुझाया था;और साउथी अपनी भतीजी, अनुवादक (काण्ड, तृतीय, श्लोक 16) को बताता है यहाँ वह खुशी के बारे बोलता है,जो उसने महसूस की होती अगर 

…वह मर्लिन के ग्लास में देख सकता 
जिनके द्वारा उसकी भारी किताबों को अपनी जबान बोलना सिखाया गया था।[2]

नोट[संपादित करें]