सामर्रा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सामर्रा
Samarra / سامَرّاء‎
सामर्रा की इराक़ के मानचित्र पर अवस्थिति
सामर्रा
सामर्रा
इराक़ में स्थिति
सूचना
प्रांतदेश: सलाहुद्दीन प्रान्त, ईराक
जनसंख्या (२००३): ३,४८,७००
मुख्य भाषा(एँ): अरबी
निर्देशांक: 34°11′54″N 43°52′27″E / 34.19833°N 43.87417°E / 34.19833; 43.87417

सामर्रा (अरबी: سامَرّاء‎‎, अंग्रेज़ी: Samarra) मध्य इराक़ के सलाहुद्दीन प्रान्त में स्थित एक शहर है। यह दजला नदी के पूर्वी किनारे पर बसा हुआ है और राष्ट्रीय राजधानी बग़दाद से लगभग १२५ किमी उत्तर में है। यह एक ऐतिहासिक शहर है जहाँ मानवी संस्कृति ५५०० ईसापूर्व से ही शुरू हो गई थी। यहाँ शिया समुदाय के लिए महत्वपूर्ण अल-अस्करी मस्जिद स्थित है जिसमें शियाओं के दसवें इमाम (अली अल-हादी) और ग्यारहवें इमाम (हसन अल-अस्करी) की मज़ारें स्थित हैं। इसके अलावा इसी शहर में अब्बासी ख़िलाफ़त के ख़लीफ़ा अल-मुतवक्किल​ द्वारा ८५१ ईसवी में पूरी की गई सामर्रा की महान मस्जिद भी स्थित है जो अपनी अनोखी मलवीआ मीनार के लिए मशहूर है। सन् २००७ में यूनेस्को ने सामर्रा को एक विश्व धरोहर स्थल घोषित कर दिया।[1]

कुछ सम्बंधित तस्वीरें[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Unesco names World Heritage sites Archived 9 दिसम्बर 2017 at the वेबैक मशीन., BBC News, Accessed 2010-05-23