सानतिआगो

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

सानतिआगो दक्षिण अमेरिका के चिली देश की राजधानी है। यह देश के केन्द्रीय घाटी में समुद्र तल से लगभग ५२० मी की उंचाई पर स्थित है। लगभग दो दशकों की निर्बाध आर्थिक प्रगति ने लातिनी अमरीका में सेंटियागो को सबसे आधुनिक शहरों में शुमार कर दिया है और आज यहां दर्जनों शॉपिंग मॉल एवं सैकडो़ उंची इमारते हैं।

इतिहास[संपादित करें]

सानतिआगो की स्थापना एक स्पैनिश नागरिक पेद्रो दे वाल्दिविया द्वारा२१ फरवरी, १५४१ मे की गयी थी। स्थापना समारोह ह्यूलेन हॉल में की गयी थी जिसे बाद में सेरो सांता लूसिया नाम दिया गया। श्री वाल्दिविया ने इस जगह का चुनाव इस जगह की अच्छी जलवायु एवं परिवहन के लिए आसानी से उपलब्ध मापोचो नदी की वजह से की थी। १ सितंबर १५४१ को अराको युद्ध में यह शहर पूरी तरह तहस नहस हो गयी थी।

१८ वीं सदी के सेंतियागो का नक्शा

प्रारम्भिक भवनों का नि‍र्माण स्थानीय लोगों, जिन्हे Picunche Indians भी कहा जाता था, की मदद से किया गया। शहर के दक्षिणी किनारे पर स्थित मापोचो नदी को बाद में सुखाया गया और जनता के आवागमन तथा अन्य सुविधाओं के लिये खोल दिया गया। सुखाये गए स्थान को आलामेदा कहा जाता था। वैसे इसे अब Avenida Alameda Libertador Bernardo O'Higgins कहा जाता है। १८१०-१८१८ में शहर के दक्षिणी-पश्चिमी छोर में चले चिली युद्ध War of Independence में यह शहर आंशिक रुप से क्षतिग्रस्त हो गया था। (1810–18), in the Battle of Maipú। १८१८ में इस सेंटियागो (Santiago) शहर को राजधानी बनाया गया।

Santiago in 1896.


संदर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]