साधना

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
  • जापानी साधना

साधना (तिब्बती भाषा: སྒྲུབ་ཐབས་, THL druptap, चीनी भाषा : 修行)का शाब्दिक अर्थ है, 'किसी लक्ष्य की प्राप्ति के लिए किया जाने वाला कार्य'। किन्तु वस्तुतः यह एक आध्यात्मिक क्रिया है। धार्मिक और आध्यात्मिक अनुशासन जैसे कि पूजा , योग , ध्यान , जप , उपवास और तपस्या के करने को साधना कहते हैं । अनुरुद्ध प्रगति के लिए साधना को प्रतिदिन करना चाहिए । सनातन धर्म, बौद्ध, जैन, सिख आदि धर्मों में लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए भिन्न प्रकार की साधनाएँ की जाती हैं।


ऋषि पतंजलि जी ने अपने योगसूत्र में योग-साधना में चौदह प्रकार के विघ्न बताए हैं और साथ ही इनसे छूटने के उपाय भी बताया है।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]