सामग्री पर जाएँ

साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एसईसीएल)
प्रकार राज्य के स्वामित्व वाले उद्यम
सार्वजनिक संगठन
उद्योग खनन
स्थापना 1985
मुख्यालय बिलासपुर, छत्तीसगढ़, भारत
क्षेत्र भारत
प्रमुख व्यक्ति पी.एस.मिश्रा
(अध्यक्ष एवं एमडी)
उत्पाद कोयला
स्वामित्व भारत सरकार
मातृ कंपनी कोल इंडिया लिमिटेड
वेबसाइट www.secl-cil.in

साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एसईसीएल) भारत की सबसे बड़ी कोयला उत्पादक कंपनी है। यह एक "मिनीरत्न" कंपनी है, और कोल इंडिया लिमिटेड की आठ पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनियों में से एक है।[1][2] कंपनी का मुख्यालय बिलासपुर, छत्तीसगढ़, भारत में है और इसकी 92 खदानें छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में फैली हुई हैं; 70 भूमिगत, 21 खुली खदान, और 1 मिश्रित भूमि है।[3] यह कोयला मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत कोयला और लिग्नाइट में अनुसूची 'बी' मिनी रत्न सीपीएसई है।[4][5]

सन्दर्भ

[संपादित करें]
  1. "SECL". मूल से 10 जुलाई 2023 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 30 सितंबर 2023.
  2. Subsidiaries of Coal India Limired International directory of company histories, Volume 44 by Thomas Derdak, Tina Grant
  3. SECL - Mines Archived 2011-06-06 at the वेबैक मशीन
  4. [1] Eastern Coalfields Limited (Ministry of Energy, Department of Coal) Page 2.
  5. "MINING & INDUSTRIES". angul.nic.in. मूल से 2004-05-14 को पुरालेखित.