साइमन कुज़्नेत्स

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Simon Kuznets
Institutional economics
Simon Kuznets 1971b.jpg
Kuznets in 1971
जन्म 30 अप्रैल 1901
Pinsk,[1] Russian Empire (present-day Belarus)
मृत्यु जुलाई 8, 1985(1985-07-08) (उम्र 84)
Cambridge, Massachusetts
राष्ट्रीयता American
संस्थान NBER
Columbia University,
Harvard University (1960–1971)
Johns Hopkins University (1954–1960)
University of Pennsylvania (1930–1954)
क्षेत्र Econometrics, development economics
शिक्षा Columbia University,
Kharkiv Institute of Commerce
योगदान National income data
Empirical business cycle research
Characteristics of economic growth
पुरस्कार Nobel Memorial Prize in Economic Sciences (1971)
IDEAS/RePEc में जानकारी

साइमन स्मिथ कुज़्नेत्स (30 अप्रैल 1901 - 8 जुलाई 1985) एक अमेरिकी अर्थशास्त्री और सांख्यिकीविद् थे। 1971 में "आर्थिक विकास के बारे में उनकी व्याख्या जिसने आर्थिक और में अंतर्दृष्टि गहरा सामाजिक संरचना में नए शोध को बढ़ावा मिला" के लिए उन्हें अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया। वे बेलरूस में जन्मे थे, किंतु बाद में उन्होंने अमेरिकी नागरिकता अपना ली। कुज़्नेत्स ने एक अनुभवजन्य विज्ञान में अर्थशास्त्र के परिवर्तन और मात्रात्मक आर्थिक इतिहास के गठन में अपना निर्णायक योगदान दिया। [2]

आर्थिक विकास[संपादित करें]

उन्होंने 60 वर्षों तक अमेरिका, जापान और यूरोप के 14 देशों के आर्थिक प्रदर्शन के सांख्यिकीय संकेतकों को एकत्रित करके उनका विश्लेषण किया। इस विश्लेषण के आधार पर उन्होंने अपने आर्थिक विकास के ऐतिहासिक आधार वाले सिद्धांत की स्थापना की। इन अनुभवजन्य अध्ययनों का मूल तत्व यह है कि किसी देश के कुल उत्पाद की वृद्धि का तात्पर्य इसके संपूर्ण आर्थिक ढांचे के गहन परिवर्तन से है।

यह परिवर्तन आर्थिक जीवन के कई पहलुओं को प्रभावित करता है, जैसे- उत्पादन की संरचना, रोजगार की क्षेत्रीय और व्यावसायिक संरचना, परिवार और बाजार की गतिविधियों के बीच व्यवसायों का विभाजन, जनसंख्या का स्थानिक वितरण, आयु संरचना, आय संरचना और आकार, पूंजी, श्रम और ज्ञान, उद्योग और सरकारी विनियमन का संगठन इत्यादि।

कुज़्नेत्स के मुताबिक़ इस तरह के बदलाव समाज के समग्र विकास के लिए आवश्यक हैं, और एक बार शुरू होने पर देश के आर्थिक विकास पर प्रभाव डालते हैं। कुज़्नेत्स ने जनसांख्यिकीय प्रक्रियाओं और विशेषताओं के आर्थिक विकास पर होने वाले प्रभाव का भी गहरा विश्लेषण किया।

अपनी प्रमुख थीसिस में उन्होंने यह तर्क दिया कि वर्तमान के अविकसित देश पहले के अविकासित देशों से भिन्न हैं। अतः ऐसा आवश्यक नहीं है उनकी समस्याएँ और ज़रूरतें वही हों जिनका सामना औद्योगिक देशों ने विकसित होने से पहले किया था। इस प्रकार उन्होंने उस अति-सरल दृष्टिकोण को समाप्त करने में सहायता की जो कहता है कि सभी देशों ने अपने इतिहास में समान "रैखिक चरणों" के माध्यम से विकास किया। इसके परिणामस्वरूप विकास अर्थशास्त्र में अध्ययन को एक नई दिशा मिल गयी, जो कि अब आधुनिक अविकसित देशों के विशिष्ट अनुभवों के विश्लेषण पर केंद्रित है।

कुज़्नेत्स वक्र[संपादित करें]

उनकी सबसे महत्वपूर्ण सैद्धांतिक अनुसंधान कार्यक्रमों में से एक था कुज़्नेत्स वक्र (Kuznets curve)। ये वक्र आय असमानता और आर्थिक विकास (1955, 1963) के बीच एक उल्टे यू-आकार (U) का संबंध दर्शाते हैं। जहाँ गरीब देशों में आर्थिक विकास ने अमीर और गरीब लोगों के बीच आय असमानता को बढ़ा दिया, वहीं अमीर देशों में आर्थिक विकास ने इस खाई को पाट दिया। विकसित और अविकसित देशों में आय असमानता के पैटर्न को ध्यान में रखते हुए, उन्होंने प्रस्तावित किया कि जैसे ही देश आर्थिक विकास का अनुभव करते हैं, उनमें पहले आय असमानता बढ़ती है और फिर घट जाती है। उनका तर्क यह था कि विकास का अनुभव करने के लिए, देशों को कृषि से औद्योगिक क्षेत्रों में स्थानांतरित करना पड़ता है। जहाँ कृषि आय में बहुत कम भिन्नता होती है, औद्योगीकरण से आय में बड़े अंतर पाए जाते हैं। साथ ही साथ आर्थिक असमानता का प्राकृतिक चक्र बाजार की ताकतों द्वारा भी संचालित होता है। अतः, जब आर्थिक विकास शुरु होता है तो कुछ लोग ही आय वृद्धि से लाभान्वित होते हैं। बाद में जैसे-जैसे अर्थव्यवस्थाएँ विकास का अनुभव करती हैं, सामूहिक शिक्षा अधिक अवसर प्रदान करती है, जिससे असमानता में कमी आती और जनसंख्या के निचले आय वाले हिस्से को सरकारी नीतियों को बदलने के लिए राजनीतिक शक्ति प्राप्त होती है। उन्होंने कई वर्षों तक शोध करने के पश्चात् 1963 में अपने निष्कर्ष प्रकाशित किए।

चयनित प्रकाशन[संपादित करें]

  • "Secular Movements in Production and Prices: Their Nature and Their Bearing upon Cyclical Fluctuations". (1930)
  • "National Income and Capital Formation, 1919–1935". (1937)
  • "National Income and Its Composition, 1919–1938". (1941)
  • "Economic Growth and Income Inequality". American Economic Review 45 (March): 1–28. (1955)
  • "Quantitative aspects of the economic growth of nations, VIII: The distribution of income by size", Economic Development and Cultural Change, 11, pp. 1–92. (1963)
  • "Modern Economic Growth: Rate, Structure, and Spread". (1966)
  • "Toward a Theory of Economic Growth, with Reflections on the Economic Growth of Modern Nations". (1968)
  • "Economic Growth of Nations: Total Output and Production Structure". (1971)
  • "Population, Capital and Growth". (1973)

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Noble Prize Laureate Database
  2. Abramovitz, Moses (2009). "Simon Kuznets 1901–1985". The Journal of Economic History. 46: 241–246. डीओआइ:10.1017/S0022050700045642.

Further reading[संपादित करें]

  • बेन-पोरथ वाई। साइमन कुज़नेट्स इन पर्सन एंड राइटिंग // इकोनॉमिक डेवलपमेंट एंड कल्चरल चेंज, वॉल्यूम। 36, नंबर 3 (अप्रैल, 1988), पीपी।   435-447।
  • Fogel, Robert W. (2000). "Simon S. Kuznets: April 30, 1901 – July 9, 1985". NBER Working Paper No. W7787.
  • फोगेल, रॉबर्ट विलियम; फोगेल, एनिड एम।; गुग्लिएल्मो, मार्क; ग्रोटे, नथानिएल (2013)। राजनीतिक अंकगणित: साइमन कुज़नेट और अर्थशास्त्र में अनुभवजन्य परंपरा । शिकागो: शिकागो विश्वविद्यालय प्रेस। आईएसबीएन   978-0-226-25661-0
  • ग्रिनिन, एल।, कोरोटेव, ए। और टौश ए। (2016) आर्थिक चक्र, संकट और वैश्विक परिधि । स्प्रिंगर इंटरनेशनल पब्लिशिंग, हीडलबर्ग, न्यूयॉर्क, डॉर्ड्रेक्ट, लंदन,   ; https://www.springer.com/de/book/9783319412603
  • साइमन कुज़नेट्स की होसेलिट्ज बीएफ ग्रंथ सूची // आर्थिक विकास और सांस्कृतिक परिवर्तन, वॉल्यूम। 31, नंबर 2 (जनवरी, 1983), पीपी।   433-454।
  • कपूरिया-फोरमैन वी।, पर्लमैन एम। एक आर्थिक इतिहासकार का अर्थशास्त्री: स्मरण शमौन कुजनेट्स। द इकोनॉमिक जर्नल, 105 (नवंबर), 1995, पी।   1524-1547।
  • Syed, Munir Khasru; Mohammad, Muaz Jalil (2004). "Revisiting Kuznets Hypothesis: An Analysis with Time Series and Panel Data". Bangladesh Development Studies. 30 (3–4): 89–112.
  • Lundberg, Erik (1971). "Simon Kuznets contributions to Economics". The Swedish Journal of Economics. 73 (4): 444–459. JSTOR 3439225. डीओआइ:10.2307/3439225.
  • स्ट्रीट जेएच इंस्टीट्यूशनलिस्ट डेवलपमेंट थ्योरी के साइमन एस कुज़नेट्स का योगदान // जर्नल ऑफ इकोनॉमिक इश्यूज, वॉल्यूम। 22, नंबर 2 (जून।, 1988), पीपी।   499-509।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

Awards
Preceded by

Paul A. Samuelson
Laureate of the Nobel Memorial Prize in Economics

1971
Succeeded by

John R. Hicks

Kenneth J. Arrow