साइखोम मीराबाई चानू

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
साइखोम मीराबाई चानू

चानू को राष्ट्रपति भवन, नई दिल्ली में राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार प्रदान करते भारत के राष्ट्रपति, 2018
व्यक्तिगत जानकारी
राष्ट्रीयता भारतीय
जन्म 8 अगस्त 1994 (1994-08-08) (आयु 27)
इम्फाल पूर्व, मणिपुर, भारत
निवास मणिपुर, भारत
कद 1.50 मीटर
वज़न 49 किलो
खेल
देश भारत
खेल भारोत्तोलन
प्रतिस्पर्धा 48 किग्रा
कोच कुंजरानी देवी
उपलब्धियाँ एवं खिताब
ओलम्पिक फाइनल सिल्वर (टोक्यो 2021)

साइखोम मीराबाई चानू (जन्म : 8 अगस्त 1994) एक भारतीय भारोत्तोलन खिलाड़ी हैं। २०२१ के टोक्यो ओलंपिक खेलों में इन्होंने ४९ किग्रा वर्ग में रजत पदक जीता। [1] भारत के लिये भारोत्तोलन में रजत पदक जीतने वाली वे प्रथम महिला हैं। वह 2014 से नियमित क

व्यक्तिगत जीवन[संपादित करें]

साइखोम मीराबाई चानू का जन्म 8 अगस्त 1994 को भारत के एक उत्तर पूर्वी राज्य मणिपुर की राजधानी इम्फाल में हुई थी। इनकी माता का नाम साइकोहं ऊँगबी तोम्बी लीमा है जो पेशे से एक दुकानदार हैं वहीँ इनके पिता का नाम साइकोहं कृति मैतेई है जो PWD डिपार्टमेंट में नौकरी करते हैं। मीराबाई चानू अपने बचपन के दिनों से ही भारत्तोलक में रूचि रखती थी क्युकी केवल 12 वर्ष की उम्र में ही लकड़ियों के गुच्छे उठाकर अभ्यास किया करती थी। [2]

कैरियर[संपादित करें]

चानू ने 2014 राष्ट्रमण्डल खेल में 48 किग्रा श्रेणी में रजत पदक जीता तथा गोल्ड कोस्ट में हुए 2018 संस्करण में विश्व कीर्तिमान के साथ स्वर्ण पदक जीता। उनकी सबसे बड़ी उपलब्धि 2017 में अनाहाइम, संयुक्त राज्य अमेरिका में आयोजित हुई विश्व भारोत्तोलन चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतना था। चानू ने 24 जुलाई 2021 को ओलम्पिक में 49 किग्रा भारोत्तोलन मेंं भारत के लिए पहला रजत पदक जीता। उन्होंने स्नैच में 87 kg भार उठाते हुए,क्लीन एंड जर्क में 115 kg सहित कुल 202 किलोग्राम वजन उठा कर रजत पदक पर कब्ज़ा किया । चानू ने टोक्यो ओलम्पिक 2020(2021) में भारत को पहला पदक दिलाकर पदक तालिका में खाता खोला। गौरतलब है कि सुश्री कर्णम मल्लेश्वरी (कांस्य पदक सिडनी ओलंपिक 2000) के बाद चानू वेटलिफ्टिंग मे पदक जीतने वाली दूसरी व भारत की ओर से रजत पदक हासिल करने वाली पहली भारतीय वैटलिफ्टर बन गई है। चानू ने राष्ट्रमंडल खेलों में स्वयं के 186 kg रिकॉर्ड को तोड़कर नया कीर्तिमान 202 kg स्थापित किया। इन्होंने ग्लासगो में हुए 2014 राष्ट्रमण्डल खेलों में भारोत्तोलन स्पर्धा के 48 किलोग्राम वर्ग में रजत पदक प्राप्त किया। उन्होंने कुल 170 किलो वजन उठाया, जिसमें 75 स्नैच में और 95 क्लीन एण्ड जर्क में था।[3] इन्होंने ब्राज़ील के रियो डी जेनेरो में आयोजित २०१६ ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई किया, किंतु क्लीन एण्ड जर्क में तीनों प्रयास असफल रहने के बाद वह पदक जीतने में असफल रहीं।[4] 2017 में उन्होंने महिला महिला 48 किग्रा श्रेणी में 194 किग्रा (85 किग्रा स्नैच तथा 109 किग्रा क्लीन एण्ड जर्क) का भार उठाकर 2017 विश्व भारोत्तोलन चैम्पियनशिप, अनाहाइम, कैलीफोर्निया, संयुक्त राज्य अमेरिका में स्वर्ण पदक जीता।[5] वह भारत में मणिपुर राज्य से हैं।

चानू ने 196 किग्रा, जिसमे 86 kg स्नैच में तथा 110 किग्रा क्लीन एण्ड जर्क में था, का वजन उठाकर भारत को 2018 राष्ट्रमण्डल खेलों का पहला स्वर्ण पदक दिलाया। इसके साथ ही उन्होंने 48 किग्रा श्रेणी का राष्ट्रमण्डल खेलों का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया।[6]

प्रमुख परिणाम[संपादित करें]

वर्ष स्थल भार स्नैच (किलो) क्लीन एंड जर्क (किलो) कुल पद
1 2 3 पद 1 2 3 पद
Olympic Games
2016 Flag of ब्राज़ील रियो डी जनेरियो, ब्राज़ील 48 kg 82 82 84 6 103 106 106 NM
2020 Flag of जापान टोक्यो, जापान 49 kg 84 87 89 2 110 115 117 2 202 2
वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप
2017 Flag of the United States अनाहेम, अमेरिका 48 kg 83 85 85 2 103 107 109 1 194 1
2019 थाईलैण्ड पट्टाया, थाईलैंड 49 kg 84 87NR 89 5 111 114NR 118 4 201NR 4
National Championships
2020 भारत कोलकाता, भारत 49 kg 85 88NR 90 1 111 115NR 117 1 203NR 1
Asian Championships
2020 Flag of उज़्बेकिस्तान तश्केंत, उज़्बेकिस्तान 49 kg 85 85 86 4 113 117 119WR 1 205NR 3
2019 Flag of चीनी जनवादी गणराज्य निंगबो, चीन 49 kg 83 86 86 4 109 113 115 3 199 4
Commonwealth Games
2018 Flag of ऑस्ट्रेलिया गोल्ड कोस्ट, ऑस्ट्रेलिया 48 kg 80 84 86NR 1 103 107 110NR 1 196NR 1
2014 स्कॉटलैण्ड ग्लासगो, स्कॉटलैंड 48 kg 72 75 75 2 92 95 98 2 170 2

सम्मान[संपादित करें]

2018 राष्ट्रमण्डल खेलों में विश्व कीर्तिमान के साथ स्वर्ण जीतने पर मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने ₹15 लाख की नकद धनराशि देने की घोषणा की।[7] 2018 में उन्हें भारत सरकार ने पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया।[8] इन्हें २०१८ में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

टोक्यो ओलंपिक 2021 में सवर्ण पदक जीतने पर मणिपुर सरकार ने 1 करोड़ रुपये की पुरस्कार राशि एवं सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "मीराबाई चानू ने खत्म किया 21 साल का इंतजार, वेटलिफ्टिंग में दूसरी बार मेडल" (Hindi में). आज तक. 25 जुलाई 2021. अभिगमन तिथि 25 जुलाई 2021.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  2. "मीराबाई चानू का जीवन परिचय" (Hindi में). WikiHindi. 25 जुलाई 2021. अभिगमन तिथि 25 जुलाई 2021.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  3. "कॉमनवेल्थ गेम्स: पहले दिन भारत ने जीते 7 मेडल". नवभारत टाइम्स. 25 जुलाई 2014. मूल से 12 अगस्त 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 25 जुलाई 2014.
  4. "Rio Olympics 2016: India's Saikhom Mirabai Chanu fails to complete weightlifting event". First Post. 7 अगस्त 2016. मूल से 8 अगस्त 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 8 August 2016.
  5. "Mirabai Chanu wins gold at world Weightlifting Championships". टाइम्स ऑफ़ इण्डिया. 30 नवम्बर 2017. मूल से 3 अप्रैल 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 अप्रैल 2018.
  6. "कॉमनवेल्थ: वेटलिफ्टर चानू ने भारत को दिलाया पहला गोल्ड, 196 Kg वजन उठाकर अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा". दैनिक भास्कर. 6 अप्रैल 2018. मूल से 6 अप्रैल 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 अप्रैल 2018.
  7. "मीराबाई-संजीता ने देश को दिलाया गोल्ड, सरकार ने की 15-15 लाख देने की घोषणा". जनसत्ता. 6 अप्रैल 2018. मूल से 6 अप्रैल 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 अप्रैल 2018.
  8. "पद्म पुरस्कार: धोनी और पंकज आडवाणी को पद्म भूषण, सोमदेव को पद्मश्री". फर्स्टपोस्ट. 26 जनवरी 2018. मूल से 6 अप्रैल 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 अप्रैल 2018.