साँचा:प्रमुख चित्र सप्ताह २५ वर्ष २०१३

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Transformer3d col3.svg
ट्राँसफार्मर एक विद्युत युक्ति होती है जो एक विद्युत परिपथ से विद्युत ऊर्जा को दूसरे विद्युत परिपथ में चुम्बकीय कपलिंग के द्वारा स्थानांतरित करती है। इन दोनों परिपथों के बीच किसी प्रकार का विद्युत संपर्क उपस्थित नहीं होता है। इसमें दो या अधिक कपल्ड कुण्डलियां होती हैं, या एक एकल-बिन्दु (टैप्ड) कुण्डली होती है जो एक चुम्बकीय कोर पर लिप[अटी रहती हैं, जिससे फ़्लक्स कंसन्ट्रेट रहे। प्राथमिक कुण्डली में प्रत्यावर्ती धारा के बहाव से द्वितीयक कुण्डली में वोल्टता उत्पन्न होती है। ट्रांस्फ़ॉर्मर का प्रयोग उच्च से निम्न वोल्टता या उलट के परिवर्तन हेतु किया जाता है।