साँचा:आज का आलेख १८ फ़रवरी २०१०

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
प्रचालन तंत्र की स्थिति
प्रचालन तंत्र साफ्टवेयर का समूह है जो कि आंकड़ों एवं निर्देश के संचरण को नियंत्रित करता है। यह हार्डवेयर एवं साफ्टवेयर के बीच सेतु का कार्य करता है और कंप्यूटर का सॉफ्टवेयर घटक होता है। इसी की सहायता से ही कंप्यूटर में स्थापित प्रोगाम चलते हैं। यह तंत्र कंप्यूटर का मेरुदंड होता है, जो इसके सॉफ्टवेयर व हार्डवेयर को नियंत्रण में रखता है और अनाधिकृत व्यक्ति को कंप्यूटर के गलत प्रयोग करने से रोकता है। वह इसमें भी विभेद कर सकता हैं कि कौन सा निवेदन पूरा करना है और कौन सा नहीं, इसके साथ ही इनकी वरीयता भी ध्यान रखी जाती है। इसके द्वारा एक से अधिक प्रोग्राम सीपीयू में रन करा सकते हैं। इसके अलावा संगणक संचिकाको पुनः नाम देना, डायरेक्टरी की विषय सूची बदलना, डायरेक्टरी बदलना आदि कार्य आपरेटिंग सिस्टम के द्वारा किए जाते है। डॉस (DOS), यूनिक्स, विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम (३.१, ९५, ९८, २०००, एक्स पी, विस्ता, विंडोज ७) और लिनक्स आदि कुछ प्रमुख आपरेटिंग सिस्टम हैं। विस्तार में...