सर्टिफ़िकैज़्योने दि इतालियानो कॉमे लिंगुआ स्त्रानिएरा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

सर्टिफ़िकैज़्योने दि इतालियानो कॉमे लिंगुआ स्त्रानिएरा (इतालवी: Certificazione di italiano come lingua straniera (CILS) अर्थ: इतालवी का विदेशी भाषा के रूप में प्रमाणन) इतालवी भाषा की निश्चित प्रवीणता परीक्षा है जो इतालवी भाषा को दूसरी या विदेशी भाषा के रूप में बोलने वालों के लिए इतालवी भाषा में कार्यनिर्वाह-क्षमता प्रमाणित करने की परीक्षा है। इसकी परीक्षा वर्ष में दो बार जून और दिसम्बर में आयोजित की जाती है[1]। इस परीक्षा का प्रमाण-पत्र इतालवी विदेश मन्त्रलाय और अधिकतर इतालवी विश्वविद्यालयों द्वारा प्रवेश के लिए एक आवश्यकता के रूप में मान्यता प्राप्त है। इसकी परीक्षा को चार स्तरों में बाँटा गया है - आरम्भिक (CILS Uno), प्राथमिक (CILS Due), मध्यवर्ती (CILS Tre) और उन्नत (CILS Quattro)। सी.आई.एल.एस के पाँच भाग है:

  • श्रवण परीक्षा
  • पढ़ने की समझ
  • इतालवी भाषा का उपयोग
  • लिखित परीक्षा
  • बोलने की परीक्षा

सी.आई.एल.एस का प्रमाण-पत्र यूनिवर्सिता पेर स्त्रानिएरि दि सिएना (Università per Stranieri di Siena) द्वारा दिया जाता है और यह कानूनी तौर पर भाषाई संचार क्षमता के रूप में आधिकारिक रूप से मान्यता प्राप्त है[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. CILS Exam: Italian Proficiency Test Archived 2012-03-22 at the Wayback Machine (अंग्रेज़ी)
  2. CILS EXAM : CERTIFICATE OF ITALIAN LANGUAGE PROFICIENCY Archived 2012-04-04 at the Wayback Machine (अंग्रेज़ी)

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]