सरस्वती बाई लोधी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

वीरांगना सरस्वती बाई लोधी पाटन के जागीरदार दीवान अर्जुन सिंह बनरिया कि पुत्री थी। उनका जन्म सन 1840 के आसपास हुआ दीवान अर्जुन सिंह ललितपुर कि अग्रेजी छावनी मैं हिन्दुस्तानी सेना के सर्वोच्च अधिकारी सूबेदार के पद पर आसीन थे।

सरस्वाती बाई 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में शहीद हुईं।[1]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. देवी, विमला (2011). भारतीय क्रांतिकारी वीरांगनायें. आत्माराम & संस. पपृ॰ 145–148. अभिगमन तिथि 4 अगस्त 2015.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]