सदस्य:Shreya.ramesh

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
Shreya.ramesh
नाम श्रेया रमेश पई
जन्मनाम श्रेया रमेश पई
लिंग महिला
जन्म तिथि २५ दिसंबर १९९६
जन्म स्थान कलकत्ता
निवास स्थान बैंगालोर
देश  भारत
नागरिकता भारतीय
जातियता भारतीय
शिक्षा तथा पेशा
पेशा छात्रा
नियोक्ता ---
शिक्षा बीएससी
महाविद्यालय ज्योति निवास प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज
विश्वविद्यालय क्राइस्ट यूनिवर्सिटी, बेंगलुरु
उच्च माध्यामिक विद्यालय रयान इंटरनेशनल स्कूल
शौक, पसंद, और आस्था
शौक संगीत सुनना, किताब पढना
धर्म हिन्दू
राजनीती स्वतंत्र
उपनाम ---
चलचित्र तथा प्रस्तुति मनोरंजन के लिएँ (एक्शन फिल्मों और रोमांटिक फिल्में)
पुस्तक केवल काल्पनिक (अपराध रोमांचक)
रुचियाँ

क्रिकेट

सम्पर्क विवरण
ईमेल shreyapai2512@gmail.com
फेसबुक श्रेया पइ

मेरा नाम श्रेया रमेश पई है। मैं कोलकाता, भारत की रेहने वाली हूँ। मैं क्राइस्ट यूनिवर्सिटी, बेंगलुरु मे बीएससी (इएमएस्) में पहले साल के अपने दूसरे सेमेस्टर में हूँ। मैं अपनी पृष्ठभूमि, रुचियों, उपलब्धियों और अपने लक्ष्यों से अपका परिचय कराना चहती हूँ।

बचपन[संपादित करें]

मेरा जन्म २५ दिस्ंबर १९९६ के दोपहर २ बजे कलकत्ता के जिले उत्तर २४ परगना मे हुआ। तब मेरे पिताजी कलकत्ते के आर बी आई दफ्तर मे नियुक्त थे। मैं सदैव ही अपने परिवार का प्यार पाकर बढी। मेरी दादीजी आधुनिक सोच और शिक्षित दृष्टिकोण रखने वाली औरत हैं। जिस ज़माने में लोग घर-परिवार मे लड़का पैदा होने पर ख़ुशियाँ मनाते थे और उसे अपना सौभाग्य समझ्ते थे, मेरी दादीजी ने उनके घर बेटी के जनम लेने पर श्ंख बजाके अपने घर आयी लक्षमी का स्वागत किया।

परिवार[संपादित करें]

मेरी माताजी का नाम श्रीमती शर्मिश्ठा पई है और मेरे पिताजी का नाम श्री रमेश पई है। मैं अपने माता-पिता की एकलौती स्ंतान हुँ। मेरे पिताजी आर बी आई के कैंद्रिय धोकाधरी निगरानी कक्ष में मैनेजर के पद पर नियुक्त हैं और मेरी माताजी गृहणी हैं। मेरे परिवार मे हम तीनो के अलावा और भी सदस्य हैं। मेरे दादाजी, दादीजी, चाचाजी, चाचीजी और मेरा चचेरा भाई अभीनव। हम सब एक संयुक्त परिवार में बहुत प्यार से रह्ते हैं। इसके अलावा मेरे परिवार मे मेरी बुआजी, फुफाजी और मेरी फुफेरी बहन तनीशा भी हैं।

शिक्षा[संपादित करें]

जन्म से लेकर ८ वर्ष की आयु तक मैं कलकत्ते मे रही। उसके पश्चात पिताजी का बंबइ के दफ्तर मे तबाद्ला होने के कारण उन्हे मुझे एवं मेरी माताजी को लेकर बंबइ जाना पड़ा। मेरी शिक्षा दसवी श्रैणी तक बंबइ के रयान इंटरनेशनल स्कूल मे ही संपन्न हुइ। उसके पश्चात पिताजी का पुनः तबाद्ला हुआ और हम तीनो बेंगालुरु आ गये। यहा मेरी अगे की पढ़ाई स्नातक तक् स्ंपन्न होगी।

रुचियाँ[संपादित करें]

मैं अपने पिताजी की सहायता के करण् बचपन से ही पढ़ाई मे अच्छी रही हुँ। इसके अलावा मेरी रूची खेल-कूद मे भी रही है। मुझे खास तौर पर क्रिकेट के खेल मे रूची है। अपने खाली समय मे मैं गीत गाना और सुन्ना दोनो अधिक पसंद करती हुँ। इसके अलावा, मैं अपने खाली समय में किताबें पढ़ना पसन्द करती हुँ और अपराध रोमांचक उपन्यासों में खास रुची रखती हुँ।

मेरा जीवन[संपादित करें]

बचपन से ही मेरा अपने परीवार से काफी गेहरा एव्ं अच्छा स्ंब्ंध राहा है। मेरी फुफेरी बहन तनीशा मेरी सबसे अच्छी सहेली है। वह मुझसे दो साल छोटी है पर्ंतु मुझे सबसे अच्छी तरह से समझती है। मैं अपने जीवन को साकार कर अपने माता-पिता का नाम रोशन करना चाहती हुँ। अपने जीवन मे कुछ अच्छा कर उनको और अपने बाकी के परिवार को बहुत सारी खुशियाँ देना चाह्ती हुँ और मुझे आशा है के इसमे मेरे बड़ो का आशिर्वाद हमेशा मेरे साथ है।