सदस्य:Aayushi Jain/प्रयोगपृष्ठ/1

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Khandvi, Gujarati snack.jpg
Gujarati Dance - Opening Ceremony - Wiki Conference India - CGC - Mohali 2016-08-05 6629.JPG

गुजराती लोग[संपादित करें]

गुजराती लोग या गुजरात एक परम्परागत रूप से गुजरात मे रेहता हैं (जो की पश्छिमि भारत में हैं) जो की गुजराती भाषा का प्रयोग करते हैं। गुजराती भाषा एक इंडो- आर्यन भषा हैं।ष गुजराती लोग बहुत ही प्रमोग मने जाते है उद्योग मैं। उन्होने स्वराज की सिद्धान्त के शुरुआत मे एक एतिहासिक भुमिका मे एक महत्वपुर्न भुमिका निभयी और ब्रिटिश शाशन पर भारत की स्वतन्त्रता आन्दोलन में निर्णायक जीत पायी।

भौगोलिक स्थान[संपादित करें]

भारत मे गुजराती लोग ज्यादातर पश्छिमी भारत के गुजरात राज्य में रेहते हैं। गुजराती लोग भी पडोसी मुंबई और दीब और अमन के केन्द्र शासित प्रदेशो में आबदी का एक महत्वपूर्न हिस्सा हैं। भारत के अन्य हिस्सो मे जैसे मुंबाई, दिल्ली, कोलकता, मद्रास, बैंगलोर और अन्य महानगरिय भागो मे जैसे केरल में कोल्ल्स और कोच्चि जैसे बहुत आप्रवासी समुदाय हैं।

भोजन[संपादित करें]

गुजराती भोजन को "शाकाहारी के हाउते व्यंजन" के रूप में वर्णित किया गया हैं और भोजन मे प्लेट पर मीठाई, तीखा और मनगर्म उत्तेजना का सन्तुलन हैं। जैन, बौध और हिन्दू शाकाहारी हैं जो गुजरात में रेह्ते हैं। गुजराती भोजन अत्यन्त पारम्परिक भरतीय जैसे चावल, पका हुआ सब्ज़ी, दाल या करीऔर रोटी के पूर्ण भोजन की सरन्चना का पालन करता हैं।

इतिहास[संपादित करें]

१७९०-१७९१ के बीच एक महामारी ने गुजरात के कइ हिस्सों को तबाह कर दिया था, जिसके दौरान १००,००० गुजराती लोग सूरतालोन में मारे गए थे। १८१२ में एक महामारी फैलने से लगभग आधी गुजराती आबादी मारे गाई। लुडोविको डि वरटेमा जैसे प्रारम्भिक युरोपियन यात्रियों ने गुजरात कि यात्रा की और गुजरात के लोगों पर लिखा।

धर्म[संपादित करें]

गुजराती लोग मुख्य रुप से हिन्दू माने जाते हैं। जैन्सन्द मुस्लिमों की भी महत्वपूर्ण आबादी हैं, और बौद्धों जराओत्रियों, यहूदियों और की छोटी आबादी हैं। प्रमूख हिन्दू जातियां हैं जो गुजराती लोग हैं। प्रमूख गुजराती समुदायों में मेमन, दादी, आदी शामिल हैं।

साहित्य[संपादित करें]

गुजराती साहित्य का इतिहास १००० ईसा पुर्व का हो सकता है। तब से आज तक सहित्य का विकास हुआ है। गुजराती साहित्य के प्रसिद्ध विजेताओं में झावरचन्द मेधानी, अविनाश व्यास, हेमचन्द्राचार्य, नर्सिंह मेहता , गूलाब्दास ब्रोकर, अको, प्रेमानन्द भट्ट, शामल भट्ट, दयाराम, दल्पत्राम, नरमद, त्रिपाठी, महात्मा गांधी, के-एम-मुन्शी, उमाशन्कर जोशी, सुरेश जोशी, पन्नालाल,पटेल, इमामुद्दीन खानजी बाबी साहाब, निरञन भगत, केशवलला शाह, रगुवीर चौधरीऔर सीतांशू मेहता।

उल्लेखनीय लोग[संपादित करें]

राजनेताओं में शामिल कुछ सबसे महत्वपूर्ण आकंडे गुजराती थे। इनमें महात्मा गांधी, सरदार पटेल, और पाकिस्तान के पिता मोहम्मद अली जिन्ना शामिल हैं। गुजराती भी भारत के प्रधान मंत्री रहे थे। गुजराती विरासत के प्रसिद्ध बॉलीवुड दिग्ग्जों में सोहराब मोदी, आशा पारेख, संजीव कुमार, जैकी श्रोफ्फ आदी। [1]

[2]

  1. https://en.wikipedia.org/wiki/Gujarati_people
  2. https://hi.wikipedia.org/wiki/%E0%A4%B8%E0%A4%A6%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%AF:Aayushi_Jain/%E0%A4%AA%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%AF%E0%A5%8B%E0%A4%97%E0%A4%AA%E0%A5%83%E0%A4%B7%E0%A5%8D%E0%A4%A0/1#/media/File:Gujarati_Dance_-_Opening_Ceremony_-_Wiki_Conference_India_-_CGC_-_Mohali_2016-08-05_6629.JPG