सदस्य:जल पुरुष निर्मल सिंह

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

नाम                          : निर्मल सिंह

पिता का नाम              : श्री राधेश्याम

माता का नाम      : श्रीमति शकुन्तला देवी

जन्म तिथि                  : 01.01.1980

लिंग                         : पुरूष

वर्तमान पता               : 140, विजय नगर,इटावा ;उत्तर प्रदेश

शैक्षिक योग्यता           : एम0ए0, समाज शास्त्र

सम्पर्क सूत्र                : 9411018480/9690136773

वर्तमान पद                : सचिव, नेचर कन्जर्वेशन एण्ड ह्यूमन वेलफेयर सोसायटी,  इटावा। संस्थापक -जल सेना। संयोजक :यमुना बचाओ आन्दोलन।

 

अनुक्रम

सामाजिक परिचय           [संपादित करें]

निर्मल सिंह एक सोशल एक्टिविस्ट हैं। वह समाज के लिए पर्यावरण और जल संरक्षण पर काम कर रहे हैं। वह पानी बचाने के लिए बहुत प्रसिद्ध व्यक्ति हैं। उन्होने वर्षा जल संचयन और भूजल संरक्षण को बढ़ावा देने के लिये कई अस्मर्णीय कार्य किये है। उन्होंने छात्र जीवन 24 अप्रैल 1999 से समाज सेवी कार्याें की शुरुआत की। निर्मल सिंह ने अपना जीवन प्रकृति और मानव कल्याण के लिए समर्पित कर दिया है। उनके काम को देखते हुए उन्हें कई पुरस्कारों के माध्यम से देश भर में सम्मानित किया गया है। आज लोग उन्हें जल संरक्षक और जल पुरुष के नाम से पुकारते हैं।  जनपद इटावा के साथ देश विदेश में सामाजिक कार्याे को करने का अनुभव रखते है। 19 वर्षो से लगातार सरकार की नीतियों को जन-जन तक पहॅुचाने तथा समाज में व्याप्त अंधविश्वास, कुरीतियों एंव समस्यायों के समाधान हेतु निरन्तर प्रयास कर रहे है।[संपादित करें]

जल ही जीवन है के मूल मंत्र के साथ 24 अपै्रल 1999 को प्याऊ लगा कर विधिव्त रूप से समाज सेवा करने का संकल्प लेकर सामाजिक कार्याे को करने के कारवाॅ को आगे बढाया।

29 नवम्बर 2000 को एन0जी0ओ0, नेचर कन्जर्वेशन एण्ड ह्यूमन वेलफेयर सोसायटी का रजिस्टेªशन कराया।

1 लाख पौधा रोपड़ स्कूलों व सार्वजनिक स्थानों में किया।

20 तालाबों का वर्षा जल संचयन हेतु संरक्षण,सम्वद्र्वन व जीर्णोद्वार किया।

15 चैक डैंमों का वर्षा जल संचयन हेतु निर्माण करया। जिसके कारण जैव-विविधता का संरक्षण हुआ।

300 पर्यावरण प्रबन्धन समूहों का गठन किया।

5 हजार से अधिक जल सैनिक बनाये जो जल बचानें के लिये जन जागरण का कार्य करते है।

5 हजार किसानों कों उन्नत एंव वैज्ञानिक खेती करने व वर्षा जल संचयन करने का प्रशिक्षण दिया।

100 से अधिक उपभोक्ता जन-जागरूकता शिविरों का आयोजन किया।

100 बाल श्रमिकों को मजदूरी से मुक्त कर शिक्षित कर मुख्य धारा से जोडा।

पल्स पोलियो अभियान में सहभागिता की तथा बच्चों के टीकाकरण के लिये लोगों को प्रेरित किया।

कुष्ठ उन्मूलन के लिये जन जागरूकता शिविरों का आयोजन किया।

एच0आई0वी0/एड्स के प्रति जन-जागरूकता शिविरों का आयोजन किया तथा निःशुल्क जाॅचें करायी।

100 युवा समूहों का गठन रेडियो सुनने के कार्यक्रम के लिये किया।

परिवार नियोजन के लिये शिविर लगाकर लोगांे को प्रेरित किया।

यौन प्रजनन स्वास्थ्य शिक्षा व अधिकारों पर 2 हजार किशोर/किशोरियों को प्रशिक्षण दिया।

टी0बी0 रोग के प्रति ग्रामीण समुदायों/स्कूली छात्र-छात्राओं के लियेे जन जागरूकता गोष्ठियों का आयोजन किया तथा निःशुल्क जाॅचें करायी। व डाट्स पद्विति से इलाज कराया।

युवाओं को व्यवसायिक प्रशिक्षण दिलाया।

मतदाता जागरूकता शिविरों का आयोजन किया।

सरकारी नीतियों को जन-जन तक पहुचानें का कार्य किया।

20 स्वयं सेवी संस्थाओं का नेटवर्क स्थापित किया।

सदस्यताः-[संपादित करें]

ऽ सदस्य आशा किसान स्वराज समूह झारखण्ड।

ऽ सदस्य,जन आन्दोलन के राष्ट्रीय समन्वय (NAPM) नई दिल्ली।

ऽ जिलास्तरीय टीओजी सदस्य, आई0सी0डी0एस0 तन्त्र सुदृढ़ीकरण एवं पोषण सुधार कार्यक्रम जपनद, इटावा।

ऽ जिला आधार प्रतिनिधि,ऐजवेल फाउण्डेशन सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्रालय,भारत सरकार।

ऽ जिला गवर्निगबोर्ड आत्मा,कृषि विभाग, जपनद इटावा।

ऽ आशा मेन्टोरिंग गु्रप,एन0एच0आर0एम0,स्वास्थ्य विभाग जनपद औरैया व इटावा।

ऽ जिला क्राईसिस कमेटी, जपनद इटावा टी0आई0 प्रोजैक्ट, उ0प्र0 राज्य एड्स नियन्त्रण समिति, लखनऊ।

ऽ बाल विकास सेवा एंव पुष्टाहार समिति, बसरेहर जपनद, इटावा।

ऽ जिला सलहाकार समिति,नेहरू युवा कंेद्र, जपनद, इटावा।

पुरस्कार/सम्मान प्राप्तिः-[संपादित करें]

ऽ जिला युवा पुरस्कार वर्ष 2002 जिला पंचायत सदस्य मा0 महेन्द्र सिंह राजपूत के द्वारा नेहरू युवा केन्द्र इटावा के सौजन्य से प्रदान किया गया।

ऽ निर्मल सिंह द्वारा स्थापित संस्था को सर्वश्रेष्ठ युवा मण्डल पुरूस्कार वर्ष 2002-03 ;रू0 10000/- संयुक्त सचिव, युवा कार्य एंव खेल मंत्रालय भारत सरकार,नई दिल्ली/महा निदेशक, नेहरू युवा केन्द्र, नई दिल्ली मा0 वंदना के0 जैना द्वारा आगरा स्थित यूथ हाॅस्टल में प्रदान किया गया।

ऽ समाज सेवा में अच्छे कार्यो के लिये उर्दू काॅन्फे्रन्श नुमाईश पण्डाल इटावा में वर्ष 2008 में प्रदान किया गया।

ऽ जल,जीवन,जंगल,जमीन ;4श्रद्ध बचानें के क्षेत्र में उत्क्रष्ट कार्यो के लिये छात्र पर्यावरण संसद के सौजन्य से मा0 महेन्द्र कुमार सिंह उप जिलाधिकारी सदर इटावा के द्वारा 21 मार्च 2016 को ;विश्व जल दिवस 22 मार्च से एक दिन पूर्वद्ध स्कूली छात्रों के बीच एक कार्यक्रम में प्रदान किया गया।

ऽ इटावा महोत्सव में आयोजित पर्यावरण सम्मेलन में छात्र पर्यावरण संसद का सफल आयोजन में सक्रीय भूमिका निभानें तथा पर्यावरण संरक्षण के लिये किये गये उत्कृष्ट कार्यो के कारण दिनांक 17/12/2016 को देश के प्रख्यात पर्यावरणविद् डा0 अनिल जोशी के द्वारा जल संरक्षक का नाम दिया तथा प्रशंस्ति-पत्र,प्रतीक चिन्ह भेट किया। कन्हैया लाल पटेल डी0एफ0ओ0,इटावा, लाइन सफारी के डी0एफ0ओ0 श्री अनिल पटेल,उप जिलाधिकारी श्री सुभाष चंन्द्र प्रजापति,नोयडा हाईवे अथोर्टी के पी0सी0एस0 अधिकारी श्री शैलैन्द्र कुमार भाटिया की गरिमामयी उपस्थिति में पुरस्कृत व सम्मानिक किया गया।

ऽ शोभना सम्मान 2016 दिनांक 07/01/2017 को विश्व पुस्तक मेले नई दिल्ली में पर्यावरण संरक्षण एंव स्वास्थ्य के क्षेत्र में किये गये उत्कृष्ट कार्यो के कारण मुख्य अतिथि श्रीमती सरिता भदौरिया बेटी बचाओं बेटी पढाव की उ0प्र0 की प्रभारी/ प्रदेश उपाध्यक्ष बीजेपी एंव नोयडा हाईवे अथोर्टी के पी0सी0एस0 अधिकारी श्री शैलैन्द्र कुमार भाटिया की गरिमामयी उपस्थिति में शोभना  वेलफेयर सोसायटी द्वारा प्रदान किया गया। जिसमें एक प्रशंस्ति-पत्र,प्रतीक चिन्ह व गले की पट्किा भंेट की गई हैं।

ऽ नेहरू युवा केन्द्र इटावा द्वारा स्वामी विवेकानन्द की जयन्ती दिनाक 12 जनवरी 2017 को रेनेशा एकेडमी इटावा में युवा पुरूस्कार पर्यावरणविद् के रूप में पर्यावरण संरक्षण के लिये समाज में किये गये उत्कृष्ट कार्यो,तालाब संरक्षण व चैक डेम निर्माण कराने के अभूतपुर्व कार्याें के कारण मुख्य अतिथि श्री सर्वेश सिंह भदौरिया प्रदेश मंत्री किसान मंच के साथ श्री गोपाल भगत जिला युवा समन्वयक नेहरू युवा केन्द्र द्वारा प्रदान किया गया।

ऽ जल पुरुष की उपाधी देते हुये जल संरक्षण, यमुना को प्रदूषण मुक्ति के लिये आन्दोलन चला कर अविरलता निर्मलता बढानें के लिये दिनांक 19 मार्च 2017 को न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीमती सुशील कुमारी एवं आशिफा राना सिविल जज ने स्वदेश संस्था ने प्रदान कियां

ऽ प्रदेश स्तरीय पर्यावरण योद्वा सम्मान 2018 दि0 5 अगस्त 2018 को प्रेस क्लव लखनऊ में तुलसी नीम पीपल अभियान के सौजन्य से बीएचयू वाराणसी के उपकुलपति श्री ..... जी के कर कमलों के द्वारा प्रशंस्ति-पत्र,प्रतीक चिन्ह व गले की पट्किा भंेट की गई ।

ऽ जल संरक्षक के रुप में कार्य करने के लिये ग्रीन मैन आॅफ इण्डिया श्री विजय पाल वघेल जी ने इटावा महोत्सव में दिनांक 8 दिसम्बर 2018 को आयोजित छात्र पर्यावरण संसद में सम्मानित किया।

ऽ स्वामी विवेकानन्द जी की जयन्ती सप्ताह समापन समारोह में दिनाक 19 जनवरी 2019 को एक स्कूली कार्यक्रम मेुं पानी बचाने एवं वृक्षारोपण, तालाबों के संरक्षण व बाॅध  निर्माण कराने के अभूतपुर्व कार्याें के लिये पुरस्कृत किया गया। यह सम्मान अनवर वारसी जिला युवा समन्वयक नेहरू युवा केन्द्र इटावा द्वारा प्रदान किया गया।

ऽ कई माननीयों, जन प्रतिनिधियों, स्वयं सेवी संस्थाओं एंव समाज सेवियांे द्वारा समय-समय पर सम्मानित किया गया है।

ख्याति प्राप्ति/अर्जित क्षेत्रः-[संपादित करें]

पर्यावरण,जल संरक्षण एंव स्वास्थ्य विषयों पर विशेष ख्याति अर्जित की है। क्षेत्र में जल संरक्षक/ जल पुरुष के रूप में पहचान स्थापित की है।

लेखों व समाचारों का प्रकाशनः-[संपादित करें]

      दैनिक जागरण,अमर उजाला, राष्टीªय सहारा,दैनिक आज, हिन्दुस्तान,लोक भारती,पुष्प सवेरा,डी0एल0ए0, पायनियर हिन्दी,पायनियर अंग्रेजी,स्वतंत्र भारत,मासिक पत्रिका सम्यक भारत,नई दिल्ली,स्थानीय अख़़वार- देश धर्म, दैनिक सवेरा,माधव संदेश इत्यादि।