सत्यकेतु विद्यालंकार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सत्यकेतु विद्यालङ्कार (१९०३ - १९७६ के बाद) भारतीय इतिहासकार एवं लेखक थे।

कृतियाँ[संपादित करें]

सत्यकेतु विद्यालंकार ने ५० से अधिक पुस्तकों की रचना की, उनमें से कुछ नीचे दी गयीं हैं-

  • महाभारत युद्ध का काल (अंग्रेजी में)
  • मौर्य साम्राज्य का इतिहास
  • भारत का प्राचीन इतिहास
  • प्राचीन भारत का राजनीतिक एवं सामाजिक इतिहास
  • भारतीय इतिहास का पूर्व-मध्य युग
  • प्राचीन भारतीय इतिहास का वैदिक युग
  • अपने देश की कथा : भारतवर्ष का संक्षिप्त इतिहास
  • प्राचीन भारत का धार्मिक, सामाजिक एवं आर्थिक जीवन
  • प्राचीन भारतीय शासन-व्यवस्था और राजशास्त्र
  • प्राचीन भारत की शासन-संस्थाएँ और राजनीतिक विचार
  • भारतीय संस्कृति और उसका इतिहास
  • आचार्य विष्णुगुप्त चाणक्य
  • सेनानी पुष्यमित्र
  • पातलिपुत्र की कथा
  • भारत के राष्ट्रीय आन्दोलन का इतिहास
  • आर्यसमाज का इतिहास
  • अग्रवाल जाति का प्राचीन इतिहास
  • एशिया का आधुनिक इतिहास
  • यूरोप का आधुनिक इतिहास , 1789 से 1949 तक (१९५०)
  • दक्षिण-पूर्वी और दक्षिणी एशिया में भारतीय संस्कृति
  • नागरिकशास्त्र के सिद्धान्त
  • राजनीति शास्त्र
  • राजनीति शास्त्र (राज्य और राज्य शासन-२)
  • अन्तर्दाह (उपन्यास)

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]