सतेंद्र सिंह

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
डॉ सतेंद्र सिंह

डॉ सतेंद्र सिंह विकलांग व्यक्तियों के सशक्तिकरण के लिए कार्यरत एक मानवाधिकार संरक्षक हैं।[1] पेशे से चिकित्सक, डॉ सिंह ने सूचना का अधिकार अधिनियम के सटीक प्रयोग के जरिये निर्योग्यता के क्षेत्र में कई सराहनीय कदम उठाए हैं जिससे उन्हें भारत के निःशक्तता अधिकार आन्दोलन को समृद्ध किया। पोलियोमेलाइटिस की वजह से हुई अपने शारीरिक अक्षमताओं की चुनौतियों का इन्होने डटकर सामना कर दृढ़ संकल्प से एम बी बी एस और फिर एम डी करी। समान अवसर के लिए उन्होंने अपने साथ हुए भेदभाव का पुरजोर विरोध किया और न्याय के लिए इस विकलांग डॉक्टर के चार साल से अधिक लड़ाई के अथक परिणाम के स्वरुप एक हजार से अधिक केंद्रीय स्वास्थ्य सेवा (सीएचएस) की नौकरियों स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मन्त्रालय, भारत सरकार ने विकलांग डॉक्टरों​ के लिए खोलने का फैसला किया।[2] न्यायालय मुख्य आयुक्त ​निशक्तजन एवं राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (भारत) में इनकी याचिका के बाद भारतीय चिकित्सा परिषद ने भारत के सभी चिकित्सकीय महाविद्यालयों/विश्वविद्यालयों को विकलांगो के लिए सुगम्य होने के निर्देश दिए[3]]

इन्होने योगी आदित्यनाथ के मंत्री सत्यदेव पचौरी के द्वारा एक विकलांग कर्मचारी और विकलांगता का मज़ाक उड़ने पर नए विकलांगता कानून के अंतर्गत पहला केस किया[4]

सम्मान/पुरस्कार[संपादित करें]

"मैं यह पुरूस्कार दुनिया भर में भेदभाव से लड़ रहे हर विकलांग के दृढ़ संकल्प को समर्पित करता हूँ| मुझे अमेरिका में यह पुरूस्कार हासिल करते समय अपने सीने पर भारतीय झंडे का बॅड्ज लगाते हुए बेहद गर्व महसूस हुआ|"-

सतेंद्र सिंह[5]

वह विकलांगता समुदाय में असाधारण नेताओं को दिए गए प्रतिष्ठित हेनरी विसकार्डि अचीवमेंट अवार्ड जीतने वाले पहले भारतीय हैं।[6] विकलांगता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए दिल्ली सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय विकलांग दिवस पर २०१६ में इन्हे राजकीय पुरुस्कार से सम्मानित किया।[7]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "16 Famous Indians With Disabilites Who Inspire Us Everyday".
  2. "One man's crusade opens up CHS jobs for disabled doctors". TOI. Times of India. 2015.
  3. "MCI pulled up for failing in its social responsibility". Hindu. 2014.
  4. "New Disability Law: Delhi University doctor stands up for UP government employee's rights". टाइम्स ऑफ़ इंडिया. 2017.
  5. "अमेरिका में भारतीय डॉक्टर को विकलांगता सेवा पुरूस्कार".
  6. "Doctor Who Helped People With Disabilities In 2014 Election Wins Prestigious US Award". NDTV.
  7. "They tell tales of a disabled system that hurt them". टाइम्स ऑफ़ इंडिया. 2016.