संस्कृत-पालि तुल्य शब्दावली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
संस्कृत-पालि तुल्य शब्दावली
Sanskrit-Pali Faulmann Gesch T10

भाषाओं का मिलन।

पालि भाषा के अधिकांश शब्दों की संस्कृत शब्दों में बहुत अधिक समानता पायी जाती है। दूसरे शब्दों में यों कहें कि पालि शब्द संस्कृत शब्दों से व्युत्पन्न से लगते हैं। नीचे कुछ प्रमुख शब्दों के तुल्य पालि शब्द दिये गये हैं-

संस्कृत -- पालि

अच्युत -- अच्चुत

अग्नि -- अग्ग

अहिंसा -- अहिंसा

अक्षर -- अक्खर

अमृत -- अमत

अनात्मन -- अनत्त

अप्रमाद -- अप्पमाद

आर्य -- अरिय

आत्मन -- अत्त / अत्तन

ऋषि -- इसि

ऋद्धि -- इद्धि

ऋजु -- उजु

वृद्ध - वुद्ध

कृत -- कत

स्थविर -- थेर

औषध -- ओसध

राज्य -- रज्ज

ईश्वर -- इस्सर

तीर्ण -- तिण्ण

पूर्व -- पुब्ब

शरण -- सरण

दोष -- दोस

भिक्षु -- भिक्खु

ब्रह्मचारिन् -- ब्रह्मचारिन्

ब्राह्मण -- ब्राह्मण

बुद्ध -- बुद्ध

चक्र -- चक्क

चन्द्र -- चन्द

चित्र -- चित्त

चित्त -- चित्त

दृढ -- दल्ह

दण्ड -- दण्ड

दर्शन -- दस्सन

देव -- देव

धर्म -- धम्म

धर्मस्थ -- धर्मत्थ

ध्रुव -- धुव

दुःख -- दुक्ख

गन्धर्व -- गन्धब्ब

गुप्त -- गुत्त

हंस -- हंस

ध्यान -- झान

कर्म -- कम्म

काम -- काम

स्कन्ध -- खन्ध

शान्ति -- खान्ति / खान्ती

क्षत्रिय -- खत्तिय

क्षेत्र -- खेत्त

क्रोध -- कोध

मर्त्य -- मच्च

मृत्यु -- मच्चु

मार्ग -- मग्ग

मैत्र -- मेत्र

मिथ्यादृष्टि -- मिच्छादिट्ठि

मोक्ष -- मोक्ख

मुक्त -- मुत्त

निर्वाण -- निब्बान

नित्य -- निच्च

प्रव्रजित -- पब्बजित (a homeless monk)

प्रकीर्णक -- पकिन्नक (scattered, miscellaneous)

प्राण -- पान (breath of life)

प्रज्ञा -- पन्ना (intelligence, wisdom, insight)

प्रज्ञाशिला -- पन्नासिला (higher intelligence and virtue)

परिनिर्वाण -- परिनिब्बन

प्रतिमोक्ष -- पतिमोक्ख

प्रिय -- पिय (dear, friend, amiable)

पुष्प -- पुप्फ

पुत्र -- पुत्त

सर्व -- सब्ब (all, whole)

सत्य -- सच्च

श्रद्धा -- सद्धा

स्वर्ग -- सग्ग

सहस्र -- सहस्स (a thousand)

श्रमण -- समन (religious recluse)

सम्योजन -- सन्नोजन / संयोजन

स्रोतस् -- सोत (stream)

शुक्ल -- सुक्क (light, pure, bright, white)

शून्यता -- सुन्नता (emptiness (nibbana), the Void)

तृष्णा -- तन्हा (thirst, craving)

त्रिपिटक -- तिपिटक

सूत्र -- सुत्त

स्थान - थान (condition, state, stance)

वक् / वच् -- वच (voice, word, speech)

वर्ग -- वग्ग (chapter, section; all chapter headings)

व्रण -- वन (wound, sore)

वन -- वन (forest, jungle (of desires))

विजान -- विजान (understanding, knowing)

विज्ञान -- विन्नान (cognition, consciousness, one of the five khandhas)

वीर्य -- विरिय (vigor, energy, exertion)

चार आर्य सत्य 

चत्वारि आर्यसत्यानि -- चत्तारि अरियसच्चानि (four noble truths)

1) दुःख -- दुक्ख

2) समुदय -- समुदय (origin, cause of ill)

3) निरोध -- निरोध (destruction of ill, cessation of ill)

4) मार्ग -- मग्ग (road, way)

आर्याष्टांग मार्ग -- अरिय अट्ठांगिक मग्ग (THE NOBLE EIGHTFOLD PATH)

1) सम्यग्दृष्टि -- सम्मदिट्ठि (right insight, right understanding, right vision)

2) सम्यक् संकल्प -- सम्मसंकप्प (right aspiration, right thoughts [right thoughts in the Theravada terminology denote the thoughts free from ill will, hatred, and jealousy)

3) सम्यग्वाक् -- सम्मवाच (right speech)

4) सम्यक् कर्मान्त -- सम्मकम्मन्त (right action)

5) सम्यग्जीव -- सम्मजीव (right livelihood, right living)

6) सम्यग्व्यायाम -- सम्मवयाम (right effort)

7) सम्यक्स्मृति -- सम्मसति (right memory, right mindfulness)

8) सम्यक्समाधि -- सम्मसमाधि (right concentration)

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]