संवेदक न्यूरॉन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
त्वचा में छूने के दबाव का बोध करने वाली ग्राही कोशिकाएँ

संवेदक न्यूरॉन (sensory neuron) ऐसे न्यूरॉन होते हैं जो प्रकाश, ध्वनि, आदि उद्दीपकों को संवेदक पारक्रमण की प्रक्रिया से विद्युत संकेतों में बदल देते हैं, जिन्हें तंत्रिका तंत्र द्वारा आगे भेजा जा सकता है, मसलन मस्तिष्क या मेरूरज्जु तक। यह विद्युत संकेत कोशिकाओं के क्रिया विभव में बदलाव से उत्पन्न होते हैं।[1][2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Purves, Dale; Augustine, George; Fitzpatrick, David; Hall, William; LaMantia, Anthony-Samuel; McNamara, James; White, Leonard (2008). Neuroscience (4 ed.). Sinauer Associates, Inc. p. 207. ISBN 978-0878936977.
  2. Krantz, John. Experiencing Sensation and Perception Archived 17 नवम्बर 2017 at the वेबैक मशीन.. Pearson Education, Limited, 2009. p. 12.3