संत मिकेल देल फ़ाई

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Sant Miquel del Fai
स्थानीय नाम:
स्पेनी: Sant Miquel del Fai
Sant Miquel de Fai
Sant Miquel de Fai
स्थान: Bigues i Riells, Spain
वास्तु शैली(याँ): Romanesque
Gothic
Spanish Property of Cultural Interest
आधिकारिक नाम: Sant Miquel del Fai
प्रकार: Non-movable
मापदंड: Monument
निर्दिष्ट: November 8, 1988[1]
संदर्भ सं: RI-51-0005209

संत मिकेल देल फ़ाई (Sant Miquel del Fai) एक सिनोबिटिक (Cenobitic) बेनेडिक्टाइन (Benedictine) आश्रम है। यह बीकेस, कातालोनिया, स्पेन में स्थित है। इस ग्यारहवीं शताब्दी की इमारत को 1988 में बिएन दे इंतेरेस कल्चरल के रूप घोषित किया गया था। [1].

स्थान[संपादित करें]

यह आश्रम एक पूर्णतः सुरक्षित प्राकृतिक वातावरण में स्थित है जिसे पथरीली पहाड़ी चोटियाँ जिन्हें सिंगेल्स बेरती के नाम से कातालान के तट-पूर्व पहाड़ी में कहा जाता है।

वास्तुकला और बनावट[संपादित करें]

अन्दर के भाग

यहाँ का गिरजाघर एक रोमेनेस्क शैली का द्वार रखता है जो अर्थ-गोलाईदार महराब से बनता है। यहाँ के कॉलमों के ऊपर पेड़ की आकृतियाँ बनी हैं। गिरजाघर के फ़र्श के ऊपर दो पुराने गिरजाघरों के मुख्य पत्थर स्पष्ट रूप से दिखाई देते हैं। एक तरफ़ के छोटे गिरजाघर में तो क़बरें हैं। उनमें से एक 13 वीं सदी की बताई जाती है और समझा जाता है कि गुइल्लेम, अर्ल ओसोना और रामोन बेरेंगे प्रथम (Ramon Berenguer I, Count of Barcelona) की है जिसने अपने अधिकारों का त्याग करते हुए संत मिगल ने संयास ग्रहण किया था। दूसरी क़ब्र बताई जाती है कि अन्दरू आरबिज़ू की हो सकती है, जो नवारों में संयास लिए हुए थे परन्तु आश्रम को वस्तुएँ लाकर दिया करता था। एक पुराना हवादार घर है जो 15 शताब्दी से संब्ंधित है। कई वर्षों तक उसे एक अस्पताल के तौर पर इस्तेमाल किया गया था मगर यह अपनी पुरानी बनावट के अनुरूप ही है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]