श्रेणी:मगही साहित्यकार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मगही साहित्यकार और लेखक वे हैं जिनकी रचनांए आधुनिक मगही भाषा में हैं और जिन्होंने अपने लेखन से आधुनिक मगही भाषा एवं साहित्य को समृद्ध किया है। आधुनिक मगही साहित्य की श्रीवृद्धि करने वालों में श्रीकान्त शास्री, श्रीकृष्णदेव प्रसाद, रामनरेश, पाठक, जयराम सिंह, रामनन्दन, मृत्युञ्जय मिश्र "करुणेश', योगेश्वर सिंह "योगेश', राम नरेश मिश्र "हंस', बाबूलाल "मधुकर', सतीश मिश्र, रामकृष्ण मिश्र, रामप्रसाद सिंह, रामनरेश प्रसाद वर्मा, रामपुकार सिंह राठौर, गोवर्धन प्रसाद सदय, सूर्यनारायण शर्मा, मथुरा प्रसाद "नवीन', श्रीनन्दन शास्री, सुरेश दूबे "सरस', शेषानन्द मधुकर, रामप्रसाद पुण्डरीक, अनिक विभाकर, मिथिलेश जैतपुरिया, राजेश पाठक, सुरेश आनन्द पाठक, देवनन्दन विकल, रामसिंहासन सिंह विद्यार्थी, श्रीधर प्रसाद शर्मा, कपिलदेव प्रसाद त्रिवेदी, "देव मगहिया', हरिश्चन्द्र प्रियदर्शी, हरिनन्दन मिश्र "किसलय', रामगोपाल शर्मा "रुद्र', रामसनेही सिंह "सनेही', सिध्देश्वर पाण्डेय "नलिन', राधाकृष्ण राय आदि प्रमुख हैं।