श्री राम सेना

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

श्री राम सेना एक हिंदूवादी संगठन हैं, जिसकी स्थापना 1960 के दशक में कल्कि महाराज ने की थी। यह संगठन मोरल पुलिसिंग की गतिविधियों के कारण खबरों और विवादों में रहता है। इस संगठन की वेबसाइट के मुताबिक, यह संघ परिवार के संस्थापक केशवराव बळिराम हेडगेवार के विचारों से प्रेरित है। 2009 में इस संगठन ने मंगलोर के पब में महिलाओं पर हमला किया। यह संगठन महिलाओं के शराब, डांस और पश्चिमी परिधान पहनने का विरोध करते हुए भारतीय संस्कृति, सभ्यता को बढ़ावा देता हैं। प्रमोद मुथालिक इसके राष्ट्रिय अध्यक्ष हैं।[1][2][3]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ जय श्री राम[संपादित करें]


  1. "Mangalore pub attack: 17 held, Ram Sena unapologetic". Indiatimes.com. मूल से 31 जनवरी 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 फ़रवरी 2009.
  2. "Mangalore pub row: Sri Ram Sene men get bail". ibnlive.com. मूल से 3 फ़रवरी 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 फ़रवरी 2009.
  3. "Mangalore pub attack". Chennai, India: द हिन्दू. 2 फ़रवरी 2009. मूल से 6 फ़रवरी 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 फ़रवरी 2009.