शोडो द्वीप

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Syodoshima landsat.jpg
Angel Road Shodo Island Japan01s3.jpg
Shōdo-shima की जापान के मानचित्र पर अवस्थिति
Shōdo-shima
Shōdo-shima
Shōdo-shima (जापान)

शोडो द्वीप (小豆島 शोदोशिमा) जापान के अंतर्देशीय समुद्र में स्थित एक द्वीप है। नाम का शाब्दिक अर्थ "छोटे बीन्स का द्वीप" हैं। द्वीप पर दो कस्बे: टोकोशो और शोदोशिमा, जोकि शोज़ू जिले में शामिल हैं।

यह द्वीप, ट्वेंटी-फोर आइज़ उपन्यास का आधार के रूप में प्रसिद्ध है, जिसका बाद में फिल्म रूपांतर भी हुआ हैं। द्वीप, जैतून का सफलतापूर्वक उगाने के लिए जापान का पहला क्षेत्र था, और इसे कभी-कभी "ओलिव द्वीप" के नाम से जाना जाता हैं।[1]

भूगोल[संपादित करें]

शोडो द्वीप कगावा प्रान्त का हिस्सा है, और प्रांत राजधानी टोकमात्सु के उत्तर में स्थित हैं। इसका क्षेत्रफल 153.30 किमी2 (59.19 वर्ग मील)और 126 किमी (78 मील) का समुद्रतट हैं। यह जापान का 19वां सबसे बड़ा द्वीप हैं, और अंतर्देशीय समुद्र में दूसरा सबसे बड़ा द्वीप है।

शोडो द्वीप, डुबूची जलसंयोगी (土渕海峡 डोबुची-काइकीओ) का घर है। यह दुनिया की सबसे संकुचित जलसंयोगी हैं, जिसकी संकुचितता 9.93 मीटर (32.58 फीट) मीटर है।

नौका अक्सर टोकमात्सू, हिमेजी, ताशिमा और ओकायामा से द्वीप तक चलते हैं। नौका ओसाका और कोबे से यहाँ तक लगातार चलते रहते हैं।

इतिहास[संपादित करें]

शोडो द्वीप को पहले अज़ीकी द्वीप (अज़ीकी-शिमा) के नाम से जाना जाता था, और यह किइ (बाद में बिज़ेन) प्रांत का हिस्सा था, फिर इसे सांकुकी प्रांत को दिया गया था और अंततः कागावा प्रान्त का हिस्सा बना।

पर्यटन और संस्कृति[संपादित करें]

शोडोमा ओलिव पार्क पर स्थित पवनचक्की

शोडो द्वीप, जापान में घरेलू पर्यटन के लिए काफी लोकप्रिय गंतव्य हैं। प्राकृतिक विशेषताएं जैसे डोबची जलसंयोगी, द एंजल रोड, शोडोशिमा ओलिव पार्क और कंकगा गॉर्ज (寒霞渓 काना-केई) के अलावा, यह स्थानिय लेखक सका त्सुबाई द्वारा लिखे गए ट्वेंटी-फोर आइज़ (二十四の瞳 निजुशी नॉटोमी) की स्थापना के रूप में प्रसिद्ध है और बाद में इसके ऊपर दो बार फिल्म (1954 और 1987), साथ ही साथ एक टेलीविजन कार्यक्रम भी बनाये गये।[2][3] द्वीप दो अन्य विशिष्ट लेखकों का जन्मस्थान है: सैक के पति कवी शिगेजी त्सुबाई और उपन्यासकार और लघु कथालेखक डेन्जी कुरोशिमा। ये तीनों सर्वहारा साहित्यिक आंदोलन में प्रमुख भागीदार थे, वर्तमान आधुनिक जापानी साहित्य के भीतर एक महत्वपूर्ण और राजनीतिक रूप से कट्टरपंथी थे।

शोडो द्वीप अपने जैतून, सोया सॉस, जंगली बंदरों और समुद्र तटों के लिए भी जाना जाता हैं। इसके अलावा, पर्यटक 88-मंदिर शिकोकू तीर्थयात्रा के एक लघु संस्करण के लिए भी आकर्षित होते हैं।

द्वीप जापान में पहली बार जैतून का सफलतापूर्वक खेती करने के लिए प्रसिद्ध है। द्वीप पर जैतून के पेड़ और जैतून से संबंधित वस्तुएं पर्यटकों में काफी लोकप्रिय हैं।[1] मिलोस ग्रीस, इसकी बहन द्वीप हैं।

बहन द्वीप[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Singleton Hachisu, Nancy (30 October 2015). "The island making Japan's best olive oil". The Japan Times. अभिगमन तिथि 1 November 2015.
  2. "Twelve Sets of Eyes". TMS Entertainment. अभिगमन तिथि 30 August 2011.
  3. "ja:二十四の瞳" (जापानी में). TMS Entertainment. अभिगमन तिथि 30 August 2011.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

निर्देशांक: 34°30′49″N 134°17′08″E / 34.51361°N 134.28556°E / 34.51361; 134.28556