शेष

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

शेष से निम्नलिखित व्यक्तियों या संकल्पनाओं का बोध होता है-

  • (१) प्रसिद्ध आचार्य जिन्होंने यजुर्वेदीय वेदांग ज्योतिष का निर्माण किया जिसमें कुल ४३ श्लोक हैं। इसपर सोमाकर की टीका है।
  • (३) भाग करने की क्रिया (division) में बची हुई संख्या या रिमेंडर (remainder)। उदाहरण के लिए २३ में ५ से भाग करने पर ३ शेष रहता है (२३ = ५ x ४ + ३)।