शेनयांग जे-15

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
जे-15
J-15
एक जे-15
प्रकार कैरियर-आधारित मल्टीरोल लड़ाकू विमान
उत्पत्ति का देश Flag of the People's Republic of China.svg चीनी जनवादी गणराज्य
उत्पादक शेनयांग एयरक्राफ्ट कॉर्पोरेशन
अभिकल्पनाकर्ता सन कांग्रे
प्रथम उड़ान 31 अगस्त 2009[1]
परिचय 2013
स्थिति उत्पादन में, सक्रिय सेवा में
प्राथमिक उपयोक्ता चीनी वायु सेना
निर्मित इकाई ~20[2]
इकाई लागत $6.1  अमरीकी डॉलर 2017 के अनुसार[3]
से विकसित किया गया सुखोई सु-33
शेनयांग जे-11बी

शेनयांग जे-15 (Shenyang J-15) फ्लाइंग शार्क के रूप में भी जाना जाता है शेनयांग एयरक्राफ्ट कॉरपोरेशन और चीनी नोसेना के विमान वाहक के लिए 601 संस्थान द्वारा विकसित एक सिंगल-सीट, दो जेट इंजिन, सभी मौसम, कैरियर-आधारित वाला लड़ाकू विमान हैं। शुरू में अफवाहो ने दावा किया गया कि विमान एक अर्ध-स्टैल्थ वाला संस्करण होगा लेकिन बाद में रिपोर्टों से पता चलता है कि यह विमान सोवियत डिजाइन वाले सुखोई एसयू-33 पर आधारित है और यह घरेलू तौर पर निर्मित रडार, इंजन और हथियारों से सुसज्जित है। 2001 में सुखोई सु-33 के अधूरे[4] टी-10के-3 प्रोटोटाइप को यूक्रेन से अधिग्रहण कर लिया गया था और कहा जाता है कि इसके तुरंत बाद जे-15 के विकास का बड़े पैमाने पर अध्ययन किया गया।[1][4][5][6] जे-15 संरचनात्मक रूप से सुखोई सु-33 पर आधारित है। स्वदेशी लड़ाकू विमान जे-11बी कार्यक्रम चीनी प्रौद्योगिकियों के साथ-साथ एवियोनिक्स का भी प्रदर्शन करता है कि किस तरह चीन ने जे-11बी कार्यक्रम के आधार पर शेनयांग जे-15 का निर्माण किया है।[7]

विकास[संपादित करें]

चीन ने कई अवसरों पर रूस से सुखोई सु-33 को खरीदने की मांग की है मार्च 2009 के अंत तक एक असफल और प्रस्ताव बनाया गया था।[8] लेकिन 2006 में बातचीत बिलकुल बंद जब रूस को यह पता चला कि चीन ने सुखोई सु-27 एसके के आधार पर संशोधित संस्करण[9][10][11] शेनयांग जे-11 बी[12][13][14] को विकसित किया है जो बौद्धिक संपदा समझौतों का उल्लंघन था।[1]

जे-15 कार्यक्रम आधिकारिक तौर पर 2006 में शुरू हुआ था।[15] जे-15 का सामान्य डिजाइनर सन कॉंग (孙 聪) है।[16] जे-15 के डिप्टी जनरल डिजाइनर वैंग योंगकिंग (王永庆) हैं।[15]

पहले जे-15 प्रोटोटाइप 31 ने अगस्त 2009 को अपनी पहली उड़ान भरी। माना जाता है कि इसमे रूसी द्वारा आपूर्ति किया गया एएल-31 टर्बोफैन इंजन का उपयोग किया गया था।[7] वीडियो और उड़ान की तस्वीरें जुलाई 2010 में रिलीज़ हुईं, जो शेनयांग जे-15 के एयरफ्रेम डिजाइन को सुखोई सु-27 के रूप में दिखा रहे थे।[17] जुलाई 2011 में, यह सूचित किया गया कि एफडब्ल्यूएस-10एच टर्बोफैन इंजन को जे-15 लड़ाकू विमान के लिए चुना गया है जो कि पुराने एफओडब्ल्यूएस-10 टर्बोफैन इंजन के 12,500 किग्रा की तुलना में टेकऑफ जोर बढ़ाकर को 12,800 किलोग्राम तक ले जाता है। कैरियर-आधारित लड़ाकू की आवश्यकता के लिए इसे बेहतर अनुकूल बनाने के लिए अन्य सुधार भी किए गए थे।[18] 6 मई 2010 को, विमान ने नकली स्की-कूद से अपनी पहली टेकऑफ़ का आयोजन किया।[7]

दो सीट वाले संस्करण ने 4 नवंबर 2012 को अपनी पहली उड़ान की।

दुर्घटनाएं[संपादित करें]

  • 27 अप्रैल 2016 को सिम्युलेटेड वाहक लैंडिंग के दौरान फ्लाइट कंट्रोल सिस्टम की समस्याओं के कारण एक जे -15 लड़ाकू जेट विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। पायलट जांग चाओ ने आखिरी पल में हताहत विमान से बाहर निकल गए थे लेकिन बाद में चोटों की निरंतरता से उनकी मृत्यु हो गई।[19][20]

विशेष विवरण[संपादित करें]

सामान्य लक्षण

  • चालकदल: 1-2
  • लंबाई: 21.9 मीटर (72 फीट)
  • पंख फैलाव: 14.7 मीटर (48.25 फीट)
  • ऊंचाई: 5.9 मीटर (19.5 फीट)
  • पंख क्षेत्र: 62.04 मीटर2 (667.80 वर्ग फीट)
  • खाली वजन: 17500 किलोग्राम (38600 पौंड)
  • उपयोगी भार: 27000 किलोग्राम (60000 पौंड)
  • अधिकतम उड़ान वजन: 33000 किलोग्राम (72752 पौंड)
  • पंख फैलाव, पंख मुड़ा हुआ: 7.4 मीटर (24.25 फीट)
  • पावर प्लांट: 2 × डबल्यूएस-10एच

प्रदर्शन

  • अधिकतम गति: मैक 1.98 (2,100 किमी/घंटा; 1,305 मील प्रति घंटा)[21]
  • रेंज: 1500 किमी[22] ()
  • फेरी रेंज: 3500 किमी[22] ()

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Chapligina, Maria (4 June 2010). "Russia downplays Chinese J-15 fighter capabilities". RIA Novosti. अभिगमन तिथि 4 June 2010.
  2. "最新一架119号歼15曝光 » 首页 - 军事". अभिगमन तिथि 4 November 2016.
  3. "歼15为何身价达4亿元?光发动机就值6600万". NetEase. अभिगमन तिथि 20117-09-03. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  4. "Chinese Aircraft - J-11 (Su-27 FLANKER)". Globalsecurity.org. अभिगमन तिथि 4 जुलाई 2011.
  5. "Revealing Shenyang J-XX Stealth Fighter of China - What's On Xiamen". whatsonxiamen.com. अभिगमन तिथि 27 July 2016.
  6. "俄方称中国自研先进战机不顺 仍将回头购俄战机_军事_凤凰网". ifeng.com. अभिगमन तिथि 27 July 2016.
  7. Fulghum, David A. "New Chinese Ship-Based Fighter Progresses". Article. Aviation Week. अभिगमन तिथि 27 April 2011.
  8. Chang, Andrei (मार्च 4, 2009). "China can't buy Sukhoi fighter jets". United Press International. अभिगमन तिथि 4 June 2010.
  9. "Top News, Latest headlines, Latest News, World News & U.S News - UPI.com". upiasia.com. अभिगमन तिथि 27 July 2016.
  10. Roger, Cliff, (1 January 2010). "The Development of China's Air Force Capabilities". rand.org. अभिगमन तिथि 27 July 2016.
  11. "Global Defence News and Defence Headlines - IHS Jane's 360". janes.com. अभिगमन तिथि 27 July 2016.
  12. Chinese version of Russian jet endangers bilateral relations
  13. Wendell Minnick. "Russia Admits China Illegally Copied Its Fighter". DefenceNews. अभिगमन तिथि 4 जुलाई 2011.
  14. SIPRI Yearbook 2009:Armaments, Disarmament, and International Security. Stockholm International Peace Research Institute. अभिगमन तिथि 4 जुलाई 2011.
  15. "J-15 program & deputy general designer". अभिगमन तिथि नवम्बर 7, 2013.
  16. "Test Flights of J-15S Flying Shark Tandem Seat Carrier-Borne Fighter". Chinese Military Review. अभिगमन तिथि 4 February 2015.
  17. "First glimpse of Chinese fighter, or Russian rip-off?". The DEW Line. अभिगमन तिथि 4 February 2015.
  18. "J15 carrier based fighter, FWS-10 turbofan engine". AirForceWorld.com. अभिगमन तिथि 5 July 2011.
  19. Xinhua News. "海军航母舰载战斗机飞行员张超训练中英勇牺牲". news.xinhuanet.com. अभिगमन तिथि 18 August 2016.
  20. Military Aviation News. "China revealed the fatal J-15 accident". alert5.com. अभिगमन तिथि 18 August 2016.
  21. "Shenyang J-15 (Flying Shark) - Development and Operational History, Performance Specifications and Picture Gallery". militaryfactory.com. अभिगमन तिथि 27 July 2016.
  22. https://thaimilitaryandasianregion.blogspot.sg/2017/05/shenyang-j-15-flying-shark.html