शिवसागरर शिवदौल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
शिवसागरर शिवदौल
শিৱসাগৰ শিৱদৌল
Siva Dol.JPG
शिवसागरर शिवदौल
धर्म संबंधी जानकारी
सम्बद्धताहिंदू धर्म
डिस्ट्रिक्टशिवसागर जिला
देवताशिव
त्यौहारमहाशिवरात्रि
अवस्थिति जानकारी
अवस्थितिशिवसागर
राज्यअसम
देशIndia
भौगोलिक निर्देशांक26°59′20″N 94°37′53″E / 26.9888°N 94.6313°E / 26.9888; 94.6313निर्देशांक: 26°59′20″N 94°37′53″E / 26.9888°N 94.6313°E / 26.9888; 94.6313
वास्तु विवरण
प्रकारअसम का स्थापत्य
निर्माताबड़ राजा अम्बिका
निर्माण पूर्ण1734
मंदिर संख्या3

शिवदौल असम के शिवसागर जिले के शिवसागर नगर के मध्य स्थित तीन मन्दिरों और एक संग्रहालय का समूह है। असमिया में 'दौल' का अर्थ मन्दिर होता है। 'यह 'शिवसागर' नामक तालाब के किनारे स्थित है जिसे 'बरपुखुरी' कहते हैं। यहाँ स्थित तीन मन्दिरों में एक शिव का, एक विष्णु का और एक दुर्गा का है। तालाब का निर्माण १७३१ और १७३८ के बीच हुआ था जबकि मन्दिरों का निर्माण १७३४ में हुआ। असम के राजा स्वर्गदेव शिवसिंह (1714–1744) की रानी बररजा अम्बिका ने कराया था। [1][2][3][4][5] शिवदौल की ऊँचाई १०४ फुट है और भूमि पर इसकी परिधि १९५ फुट है। इसके ऊपर एक ८ फुट ऊँचा सुनहरा कलचीर है।[1][6]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Assam Travel Guide. Goodearth Publications. 2011. पपृ॰ 108–109. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-93-80262-04-8.
  2. Barua 2014, पृ॰ 27.
  3. Bhattacharya 2004, पृ॰ 102.
  4. "Sivasagar". National Informatics Centre.
  5. "Shiva Dole". अभिगमन तिथि 9 January 2013.
  6. Sajnani 2001, पृ॰ 20.