शाह आयोग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

शाह आयोग' भारत सरकार द्वारा २८ मई १९७७ में नियुक्त एक जाँच आयोग था। यह आपातकाल (१९७५-७७) के समय की गयी ज्यादतियों की जाँच के लिये बनाया गया था। भारत के भूतपूर्व मुख्य न्यायधीश न्यायमूर्ति जे सी शाह इसके अध्यक्ष थे।

शाह आयोग ने सौ बैठकें की थीं, 48,000 कागजात की पड़ताल की थी और दो अंतरिम रिपोर्ट पेश की थीं। पहली अन्तरिम रपट ११ मार्च १९७८ को सौंपी गयी थी। अन्तिम रपट ६ अगस्त १९७८ को प्रस्तुत की गयी।

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]