वोल्टता नियंत्रित दोलक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एक वोल्टता-नियंत्रित माइक्रोवेव दोलक (12 MHz-18MHz)

वोल्टता नियंत्रित दोलक (voltage-controlled oscillator (VCO)) ऐसे विद्युत परिपथ को कहते हैं जिसके आउटपुट की आवृत्ति उसके इनपुट पर लगाए गये वोल्टता को बदलकर घटायी-बढायी जा सके। अर्थात् इस प्रकार के दोलक की तात्क्षणिक आवृत्ति उसके तात्क्षणिक इन्पुट वोल्टता द्वारा निर्धारित होती है। अतः वोल्टता-नियंत्रित दोलक का उपयोग आवृत्ति मॉडुलन तथा कला मॉडुलन में किया जाता है। इसी प्रकार, वीसीओ किसी फेज-लॉक्ड-लूप का आवश्यक अंग है।

दो ऑप-ऐम्प का उपयोग करके बना एक सरल वीसीओ । यदि R2«R1 हो तो उत्पादित संकेत Ua की आवृत्ति Ue के समानुपाती होगी।