वेदमती शैली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

वेदमती शैली छत्तीसगढ़ की प्रसिद्ध नृत्य-नाट्य पंडवानी की एक शैली का नाम है। वेदमती शैली का आधार है शास्त्र। खड़ी भाषा में सबलसिंह चौहान के महाभारत, जो पद्यरुप में हैं। वेदमती शैली के गायक गायिक वीरासन पर बैठकर पंडवानी गायन करते है। श्री झाडूराम देवांगन, जिसके बारे में निरंजन महावर का वक्तव्य है "महाभारत के शांति पर्व को प्रस्तुत करनेवाले निसंदेह वे सर्वश्रेष्ठ कलाकार है।" एवं पुनाराम निषाद तथा पंचूराम रेवाराम पुरुष कलाकारों में है जो वेदमती शैली के अपनाये है। महिला कलाकारों में है लक्ष्मी बाई एवं अन्य कलाकर।