वी शांताराम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Dharmatma (1935)

शांताराम राजाराम वणकुद्रे (18 नवंबर 1 9 01 - 30 अक्टूबर 1990), जिसे वी. शांताराम या शांताराम बापू कहते हैं, एक भारतीय फिल्म निर्माता, फिल्म निर्देशक और अभिनेता थे।[1] वह डॉ. कोटणीस की अमर कहानी (1 9 46), अमर भोपाल (1 9 51), झनक झनक पायल बाजे (1 9 55), दो आँखे बारह हाथ (1 9 57), नवरांग (1 9 5 9), दुनिया न माने (1 9 37) पिंजरा (1 9 72), चानी, इय मराठिएचे नगरी और जुंजे जैसी फिल्मों के लिए जाने जाते हैं।

उन्होंने 1 9 27 में अपनी पहली फिल्म नेताजी पालकर को निर्देशित किया। [2]1 9 2 9 में, उन्होंने विष्णुंत दामले के साथ प्रभात फिल्म कंपनी की स्थापना की, के.आर. डाइबर, एस फैटलाल और एस.बी. कुलकर्णी ने 1 9 32 में अपनी दिशा में पहली मराठी भाषा फिल्म अयोध्याचा राजा बनाया।[3] उन्होंने 1942 में मुंबई में "राजकमल कलामंदिर" बनाने के लिए प्रभात कंपनी छोड़ दिया। [4] समय के साथ, "राजकमल" देश के सबसे परिष्कृत स्टूडियो में से एक बन गया।[5]

चार्ली चैपलिन ने उनकी मराठी फिल्म 'मानूस' के लिए उनकी प्रशंसा की। चैपलिन ने फिल्म को बहुत पसंद किया।[6]

व्यक्तिगत जीवन[संपादित करें]

प्रमुख फिल्में[संपादित करें]

वर्ष फ़िल्म चरित्र टिप्पणी
1957 दो आँखें बारह हाथ आदिनाथ

बतौर निर्देशक[संपादित करें]

वर्ष फ़िल्म टिप्पणी
1967 गुनाहों का देवता
1967 बूँद जो बन गयी मोती
1964 गीत गाया पत्थरों ने
1959 नवरंग
1957 दो आँखें बारह हाथ
1955 झनक झनक पायल बाजे

नामांकन और पुरस्कार[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

  1. Shrinivas Tilak (2006). Understanding Karma: In Light of Paul Ricoeur's Philosophical Anthropology and Hemeneutics. International Centre for Cultural Studies. प॰ 306. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-81-87420-20-0. https://books.google.com/books?id=m1xXDHLlNYIC&pg=PA306. अभिगमन तिथि: 19 June 2012. 
  2. S. Lal (1 January 2008). 50 Magnificent Indians Of The 20Th Century. Jaico Publishing House. पृ॰ 274–. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-81-7992-698-7. https://books.google.com/books?id=rkI1_n4QAxMC&pg=PT274. अभिगमन तिथि: 20 February 2015. 
  3. A navrang of Shantaram's films - Retrospective The Hindu, 2 May 2002. Archived 1 September 2010 at the Wayback Machine.
  4. Founders Prabhat Film Company Archived 3 September 2013 at the Wayback Machine.
  5. Well ahead of his times The Hindu, 30 November 2001. Archived 1 February 2011 at the Wayback Machine.
  6. https://in.movies.yahoo.com/news/charlie-chaplin-saluted-v-shantaram-140157157.html