वीर्य (हिन्दू धर्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

वीर्य का शाब्दिक अर्थ 'पौरुष' (Virility) से है। वैदिक साहित्य में वीर्य का आशय 'नायकत्व' और पौरुष से है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]