विहार पंचमी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

विहार पंचमी अथवा विवाह पंचमी हिंदू धार्मिक मान्यता के अनुसार मार्गशीर्ष शुक्ल पंचमी बांकेबिहारी के प्रकट होने की तिथि भी है। रामायण के अनुसार त्रेता युग में सीता-राम का विवाह इसी दिन हुआ माना जाता है। मिथिलाचंल और अयोध्या में यह तिथि 'विवाह पंचमी' के नाम से प्रसिद्ध है।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. 17 नवम्बर 2015, 26 नवम्बर 2014 (15). "पहली बार श्रीराम ने कहां देखा था सीता को? जानिए कैसे हुआ था विवाह". समाचारपत्र में लेख. दैनिक भास्कर. नामालूम प्राचल |accessmonthday= की उपेक्षा की गयी (मदद); नामालूम प्राचल |accessyear= की उपेक्षा की गयी (|access-date= सुझावित है) (मदद); |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)