विश्वेश्वरैय्या राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, नागपुर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
विश्वेश्वरैय्या राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान
Visvesvaraya National Institute of Technology
चित्र:Vnit nagpur crest.jpg
पूर्व नाम
Visvesvaraya Regional College of Engineering, Nagpur (VRCE)
ध्येययोगः कर्मसु कौशलम्
Motto in English
कर्मों में कौशल ही योग है।
प्रकारPublic engineering school
स्थापित1960 (1960)
सभापतिVishram Jamdar
निदेशकNarendra S. Chaudhari
स्थानNagpur, Maharashtra, India
21°07′24″N 79°03′05″E / 21.12333°N 79.05139°E / 21.12333; 79.05139
परिसरUrban
215 एकड़ (87 हे॰)[1]
जालस्थलwww.vnit.ac.in

विश्वेश्वरैय्या राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, नागपुर, महाराष्ट्र की स्थापना १९६० में की गई थी तथा इसे २६ जून २००२ को विश्वेश्वरैय्या राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, नागपुर के रूप में स्तरोन्नत कर दिया गया था। संस्थान में १३ विभाग हैं। संस्थान सिविल इंजीनियरिंग, कैमिकल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, इलैक्ट्रानिक इंजीनियरिंग, कम्प्यूटर विज्ञान तथा इंजीनियरिंग, स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग जैसे विषयों में बी.टेक. पाठयक्रम संचालित करता है तथा पाँच वर्षीय बी. आर्क. पाठयक्रम संचालित करता है। संस्थान अंशकालिक तथा नियमित पध्दति वाले १७ एम.टेक. पाठयक्रम संचालित करता है। संस्थान औद्योगिक प्रबंधन में एक वर्षीय डिप्लोमा भी संचालित करता है। यहां पर लड़कों के लिए ७ तथा लड़कियों के लिए एक छात्रावास है। संस्थान का उद्योग संस्थान इंटर एक्‍शन प्रकोष्ठ उद्योग क्षेत्र के साथ गहन तालमेल को प्रोत्साहित करता है तथा इसके विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Campus Information". VNIT. अभिगमन तिथि 10 अगस्त 2011.
  2. "विश्वेश्वरैय्या राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, नागपुर". संस्थान का आधिकारिक जालस्थल. अभिगमन तिथि ४ मई २००९. |access-date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)