विश्वेश्वरय्या प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

विश्वेश्वरय्या प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (वीटीयू) कर्नाटक राज्य में स्थित एक विश्वविद्यालय है। यह कर्नाटक सरकार द्वारा 1 अप्रैल 1998 को वीटीयू अधिनियम 1994 के अनुसार, राज्य में तकनीकी शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए स्थापित किया गया था।[1] वीटीयू के पास कुछ अपवादो को छो़ड़ कर्नाटक राज्य का पूरा अधिकार है। कर्नाटक राज्य में इंजीनियरिंग या प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में शिक्षा प्रादान करने वाले हर कॉलेज को वीटीयू के तहत होना अनीवार्य है।[2]

इस विश्वविद्यालय का नाम मोक्षगुंडम विश्वेश्वरय्या के नाम पर रखा गया है। वे एकलौते इंजीनियर है जिन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया है। ज्ञान संगम, बेलगाम वीटीयू का मुख्यालय है। साथ ही विश्वविद्यालय का तीन क्षेत्रीय केंद्र बंगलौर, गुलबर्ग और मैसूर में स्थित है।

६७१०० पूर्वस्नातक और १२६६६ स्नातक शिक्षको का सेवन करने की क्षमता रखते हुए यह भारत में सबसे बड़े विश्वविद्यालयों में से एक है। २०८ कॉलेज इसके तहत है। यह विश्वविद्यालय ३० पूर्वस्नातक[3] और १७ स्नातक[4] पाठ्यक्रम प्रादान करता है। विश्वविद्यालय में लगभग 1800 पीएचडी के उम्मीदवार है।[5]

वर्तमान में, वीटीयू के पास १३ क्यूआईपी केंद्र और 17 विस्तार केन्द्र है[6]। यह भारत के उन चंद विश्वविद्यालयों में से है जिसके तहत १६ कॉलेजो को विश्व बैंक के टीईक्यूआईपी (टेक्निकल एड़यूकेषन कॉलिटी इम्प्रूवमेंट प्रोग्राम, भारत सरकार की पहल) कार्यक्रम के तहत कला प्रयोगशालाओं, परिसर में सुविधाओं और अनुसंधान केंद्रों को स्थापित करने में सहायता प्राप्त करने के लिए चुना गया है।

विश्वविद्यालय मे न्याय-प्रशासन के लिए सदस्य शैक्षिक समुदाय और सरकारी अधिकारियों मे से चुने जते है। विश्वविद्यालय के वर्तमान चांसलर श्री एच् हंसराज भारद्वाज हैं।

इस विश्वविद्यालय ने कई बहुराष्ट्रीय निगमो, जैसे, आईबीएम, इंटेल एशिया इलेक्ट्रॉनिक्स इंक, इंगरसोल रैंड (इंडिया) लिमिटेड, बंगलौर, नोकिया, बॉश रेक्सरोत और माइक्रोसॉफ्ट, के साथ सम्बन्ध बनाए है जिस्से छात्रों और शिक्षकों दोनों के उद्योग बातचीत में सुधार होगा।[7]

वीटीयू असोसिएशन ऑफ इंडियन यूनीवर्सिटी और असोसिएशन ऑफ कॉमनवेल्थ यूनीवर्सिटी का सदस्य है।[8][9]

SVCE

इतिहास[संपादित करें]

भारत में राज्यों के शिक्षा के लिए राज्य सरकार जिम्मेदार है। अतः विश्वविद्यालयों के विकास और निगरानी राज्य सरकार के जनादेश में है। कर्नाटक में तकनीकी शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार को ध्यान मे रखते हुए कर्नाटक राज्य सरकार ने १९९४ मे वीटीयू अधिनियम को पारित कर दिया। वीटीयू का जनादेश इस प्रकार परिभाषित है :[10]

  • नियोजित और संधारणीय रूप से तकनीकी शिक्षा को राज्य और देश के नीतियो के अनुरूप बढ़ावा देना
  • आवश्यकता के अनुसार कार्यक्रम नियोजित करना जो सही प्रकार के आवश्यक मानव सन्साध सुनिश्चित करता है
  • उद्देश्य मूल्यांकन और प्रमाणीकरण प्रणाली को संस्थाओं के लिए स्थापित करना
  • राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं, अनुसंधान एवं विकास प्रतिष्ठान के साथ सम्बन्ध बनाना

वीटीयू अधिनियम ने वीटीयू को राज्य का एकमात्र विश्वविद्यालय बनाया जो राज्य मे तकनीकी शिक्षा के लिय जिम्मेदार है। राज्य मे तकनीकी कार्यक्रमों की पेशकश करने वाले सभी कॉलेजओ का वीटीयू के अन्तर्गत होना अनिवार्य हो गया था। वीटीयू अधिनियम के अपवादों में शामिल हैं यूनीवर्सिटी विस्वेस्वर्या कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग, नैशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलौजी सूरतकाल और मणीपाल इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलौजी।

शैक्षणिक प्रालेख[संपादित करें]

बोर्ड और पाठ्यक्रम[संपादित करें]

वीटीयू पूर्वस्नातक इंजीनियरिंग प्रोग्राम के तहत शिक्षको को बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग (बीई) या बैचलर ऑफ टैक्नोलॉजी (बीटेक) डिग्री प्रदान करती है। वीटीयू स्नातक इंजीनियरिंग प्रोग्राम के तहत शिक्षको को प्रौद्योगिकी के मास्टर (एम. टेक), मास्टर ऑफ साइंस अनुसंधान द्वारा (एमएससी), मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (एमबीए), मास्टर ऑफ कम्प्यूटर एप्लीकेशन (एमसीए) और डॉक्टरेट (पीएचडी) प्रदान करता है।

पूर्वस्नातक पाठ्यक्रम[संपादित करें]

वर्तमान में यह विश्वविद्यालय के अन्तर्गत १२ पूर्वस्नातक बोर्ड है जो बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग (बीई) और १ पूर्वस्नातक बोर्ड है जो बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग (आर्क) डिग्री प्रदान करती है।

स्नातक पाठ्यक्रम[संपादित करें]

वर्तमान में यह विश्वविद्यालय के अन्तर्गत ११ स्नातक बोर्ड है जो मास्टर ऑफ टेक्नोलौजी (एम. टेक) कार्यक्रम करती है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. http://www.vtu.ac.in/newspaper/ConvocationPressNote2011.pdf
  2. http://vtu.ac.in/pdf/academic/publicnotice.pdf
  3. ug scheme & syllabus 2010-11
  4. Scheme & Syllabus of PG Programmes - 2010-11
  5. About VTU
  6. "VTU Extension Centre". Vtu.ac.in. 2011-02-18. अभिगमन तिथि 2011-10-29.
  7. http://vtu.ac.in/pdf/Circulars/brco.pdf
  8. Minds - Visvesvaraya Technological University
  9. Handbook of universities - Ameeta Gupta, Ashish Kumar - Google Books
  10. Vision - Mission - Mandate