विश्वम्भर दयालु त्रिपाठी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

विश्वम्भर दयालु त्रिपाठी (1899 –1959) एक भारतीय स्वतंत्रता सेनानी और राजनीतिज्ञ विद्वान थे। जो भारत की संविधान सभा के सदस्य चुने गए थे, और स्वतंत्रता के बाद वह उन्नाव संसदीय क्षेत्र से चुनाव जीत कर पहली लोकसभा के सदस्यों में से एक थे।

परिचय[संपादित करें]

उनका जन्म उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के बांगरमऊ में हुआ था। वे उत्तर प्रदेश के प्रथम लोकसभा सदस्यों में से एक थे।

विश्वम्भर दयालु त्रिपाठी उन्नाव जिले के कई संस्थानों के संस्थापक भी है,जैसे डी एस एन पी जी कॉलेज उन्नाव, वी डी टी इंटर कॉलेज मियंगंज उन्नाव।

सन्दर्भ[संपादित करें]