विश्वकर्मा (जाति)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

विश्वकर्मा एक भारतीय उपनाम है जो मूलतः शिल्पी (क्राफ्ट्समैंन) लोगों द्वारा प्रयोग में लाया जाता है।[1] इसे कई जातियों के लोग प्रयोग में लाते हैं जैसे कि पांचाल, धीमान, लोहार, शिल्पकार, करमकार[कृपया उद्धरण जोड़ें] इत्यादि और इन जातियों के लोग विश्वकर्मा को अपना इष्टदेवता मानते हैं। विश्वकर्मा एक हिन्दू देवता हैं[2] और उन्हीं के नाम पर विभिन्न प्रकार के शिल्प कार्य करने वाली जातियाँ अपने को 'विश्वकर्म' कहतीं हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Ramaswamy, Vijaya (2004). "Vishwakarma Craftsmen in Early Medieval Peninsular India". Journal of the Economic and Social History of the Orient. 47 (4): 548–582. JSTOR 25165073. डीओआइ:10.1163/1568520042467154. (सब्सक्रिप्शन आवश्यक)
  2. Bhagat, Ram B. (April–June 2006). "Census and caste enumeration: British legacy and contemporary practice in India". Genus. 62 (2): 119–134. JSTOR 29789312. (सब्सक्रिप्शन आवश्यक)