"किन्नौर जिला" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
3 बैट्स् जोड़े गए ,  10 वर्ष पहले
काल्पा तहसील के इस विशाल प्राचीन ग्राम को कोष्टांपी के नाम से भी जाना जाता है। इस ग्राम के खेत और फलों के पेड़ इसकी सुंदरता को और बढा़ देते हैं। देवी सुआंग चन्द्रिका मंदिर यहां बना हुआ है। यहां के स्थानीय निवासी इस देवी का बहुत सम्मान करते हैं और इसे बहुत शक्तिशाली मानते हैं। भैरों को समर्पित यहां एक अन्य मंदिर भी विशेष लोकप्रिय है।
 
=== नीचरनिचार- ===
यह ग्राम तरांगा और वांगटूवांगतू के बीच सतलुज नदी के बाएं तट पर बसा हुआ है। समुद्र तल से २,१५० मीटर की ऊंचाई पर स्थित यह ग्राम प्राकृतिक दृश्यावली से भरपूर है। यदि इस ग्राम से ऊपर की ओर जाया जाए तो घोरल, एंटीलोप्स, काले और लाल भालुओं को देखा जा सकता है।
 
=== नाको- ===
10

सम्पादन

दिक्चालन सूची