"विकिपीडिया:चौपाल" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
इसलिए वर्तमान और नए सदस्यों से निवेदन है की इस मानक का ध्यान रखें और वर्तनी दोष को सुधारने का प्रयास करें। धन्यवाद। [[सदस्य:रोहित रावत|रोहित रावत]] १४:१३, १९ दिसंबर २००९ (UTC)
:: जी हाँ, बिल्कुल ठीक कह रहे हॅ आप --- पर आपने जो "निवेदन है '''की''' इस मानक का" में '''की''' का प्रयोग किया हॅ वहाँ '''कि''' होना चाहिए ----- क्या आप इसे जानते हॅं ? --[[विशेष:Contributions/122.177.205.81|122.177.205.81]] १५:३३, १९ दिसंबर २००९ (UTC)
 
 
देवनागरी के मानकीकरण के लिए भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय की 1963 में गठित वर्तनी समिति की महत्वपूर्ण और सर्वमान्य संस्तुतियों में शामिल संबंधित नियम-
 
जहाँ किसी वर्ग के पंचमाक्षर के बाद उसी वर्ग का कोइ वर्ण हो वहाँ अनुस्वार का ही प्रयोग किया जाय. जैसे- गंगा, अंत, वंदना, संपादक आदि।
<small><span style="border:1px solid magenta;padding:1px;">[[User:aniruddhajnu|<b>अनिरुद्ध</b>]][[User_talk:अनिरुद्ध|<font style="color:purple;background:lightgreen;"> &nbsp;वार्ता&nbsp;</font>]] </span></small> १७:५२, १९ दिसंबर २००९ (UTC)
 
==[[ब्लॉग]]==

दिक्चालन सूची