"परिक्षेपण": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
561 बाइट्स जोड़े गए ,  9 माह पहले
सम्पादन सारांश नहीं है
No edit summary
टैग: Disambiguation links
[[File:Prism-rainbow.svg|thumb|right|प्रिज्म द्वारा वर्ण विक्षेपण]]
 
[[प्रकाश]] के प्रिज़्म से होकर गुजरने पर विभिन्न रंगों के प्रकाश में बँट जाने को '''परिक्षेपण''' ({{Lang-en|[[:en:Dispersion (optics)|Dispersion]]}}) कहा जाता है।
 
सूर्य के प्रकाश से प्राप्त रंगों में [[बैंगनी]] रंग का विक्षेपण सबसे अधिक एवं [[लाल]] रंग का विक्षेपण सबसे कम होता है।
[[आइजक न्यूटन|न्यूटन]] ने 1666 ई. में पाया कि भिन्न-भिन्न रंग भिन्न-भिन्न कोणों से विक्षेपित होते हैं।
वर्ण-विक्षेपण किसी पारदर्शी पदार्थ में भिन्न-भिन्न रंगों के प्रकाश के भिन्न-भिन्न [[प्रकाश का वेग|वेग]] होने के कारण वर्ण-विक्षेपण होता है। अतःइसी को दूसरे शब्दों में कहते हैं कि भिन्न-भिन्न रंगों के लिये किसी पदार्थ का [[अपवर्तनांक]] भिन्न-भिन्न होता हैं।है।
 
==सन्दर्भ==
{{टिप्पणीसूची}}
 
==इन्हें भी देखें==
*[[प्रकाश का परावर्तन]]
*[[प्रकाश का अपवर्तन]]
*[[प्रकाश का विकीर्णन]]
*[[प्रकाश का व्यतिकरण]]
 
{{भौतिकी-आधार}}

नेविगेशन मेन्यू