"राजपुताना": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
36 बाइट्स जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
छो
2405:205:1381:FCA4:16F2:237C:F223:4E61 (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
[अनिरीक्षित अवतरण][अनिरीक्षित अवतरण]
No edit summary
टैग: Manual revert Reverted यथादृश्य संपादिका मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
छो (2405:205:1381:FCA4:16F2:237C:F223:4E61 (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: वापस लिया
[[चित्र: 1909.jpg|thumb|right|250px| [[राजस्थान]] पहले राज्य/क्षेत्र/प्रदेश के रूप में जाना जाता था। 1909 का ब्रिटिशकालीन नक्शा ]]
[[चित्र:Map rajasthan dist all shaded.png|thumb|right|250px|मौजूदा [[राजस्थान]] के ज़िलों का मानचित्र]]
'''राजपूताना''' जिसे '''राजस्थान''' भी कहा जाता है। राजपूतानाराजपूतों परकी राज्यराजनीतिक करनेसत्ता केआयी कारणतथा यहांब्रिटिशकाल केमें शासकोंयह या रजवाड़ों कोराज्य/क्षेत्र/प्रदेश राजपूतनाम भीसे कहाजाने जाताजाना हैलगा।<ref>John Keay (2001). India: a history. Grove Press. pp. 231–232</ref> इस प्रदेश का आधुनिक नाम [[राजस्थान]] है, जो उत्तर [[भारत]] के पश्चिमी भाग में अरावली की पहाड़ियों के दोनों ओर फैला हुआ है। इसका अधिकांश भाग मरुस्थल है। यहाँ वर्षा अत्यल्प और वह भी विभिन्न क्षेत्रों में असमान रूप से होती है। यह मुख्यत: वर्तमान [[राजस्थान]] राज्य की भूतपूर्व रियासतों का समूह है, जो [[भारत]] का एक महत्त्वपूर्ण हिस्सा है। [[मीणा]] समाज राजस्थान का एक अहम हिस्सा है और यह जाति राजस्थान की सबसे बड़ी जनजाति है
 
== भौगोलिक स्थिति ==

नेविगेशन मेन्यू