"वास्तुकला": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
30 बाइट्स जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
छोNo edit summary
टैग: यथादृश्य संपादिका मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल एप सम्पादन Android app edit
[[चित्र:Angkor Wat W-Seite.jpg|right|thumb|300px|'''अंकोरवाट मंदिरमन्दिर''' विश्व की सबसे बड़ी धार्मिक संरचना है]]
[[भवन|भवनों]] के विन्यास, आकल्पन और रचना की, तथा परिवर्तनशील समय, तकनीक और रुचि के अनुसार मानव की आवश्यकताओं को संतुष्टसन्तुष्ट करने योग्य सभी प्रकार के स्थानों के तर्कसंगत एवं बुद्धिसंगत निर्माण की कला, विज्ञान तथा तकनीक का संमिश्रण '''[[वास्तुकला]]''' (आर्किटेक्चर) की परिभाषा में आता है।
 
इसका और भी स्पष्टकीण किया जा सकता है। वास्तुकला [[ललित कला|ललितकला]] की वह शाखा रही है और है, जिसका उद्देश्य औद्योगिकी का सहयोग लेते हुए उपयोगिता की दृष्टि से उत्तम भवननिर्माण करना है, जिनके पर्यावरण सुसंस्कृत एवं कलात्मक रुचि के लिए अत्यंतअत्यन्त प्रिय, सौंदर्य-भावना के पोषक तथा आनंदकरआनन्दकर एवं आनंदवर्धकआनन्दवर्धक हों। प्रकृति, बुद्धि एवं रुचि द्वारा निर्धारित और नियमित कतिपय सिद्धांतोंसिद्धान्तों और अनुपातों के अनुसार रचना करना इस कला का संबद्ध अंग है। नक्शों और पिंडोंपिण्डों का ऐसा विन्यास करना और संरचना को अत्यंतअत्यन्त उपयुक्त ढंगढँग से समृद्ध करना, जिससे अधिकतम सुविधाओं के साथ रोचकता, सौंदर्यसौन्दर्य, महानता, एकता और शक्ति की सृष्टि हो से यही वास्तुकौशल है। प्रारंभिकप्रारम्भिक अवस्थाओं में, अथवा स्वल्पसिद्धि के साथ, वास्तुकला का स्थान मानव के सीमित प्रयोजनों के लिए आवश्यक पेशों, या व्यवसायों में-प्राय: मनुष्य के लिए किसी प्रकार का रक्षास्थान प्रदान करने के लिए होता है। किसी जाति के इतिहास में वास्तुकृतियाँ महत्वपूर्ण तब होती हैं, जब उनमें किसी अंश तक सभ्यता, समृद्धि और विलासिता आ जाती है और उनमें जाति के गर्व, प्रतिष्ठा, महत्त्वाकांक्षामहत्त्वाकाँक्षा और आध्यात्मिकता की प्रकृति पूर्णतया अभिव्यक्त होती है।
 
== परिचय ==
2,291

सम्पादन

नेविगेशन मेन्यू