"बाणसागर" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
4 बैट्स् जोड़े गए ,  10 माह पहले
सम्पादन सारांश रहित
छो (2409:4043:2E0F:343A:0:0:2208:CA02 (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
टैग: यथादृश्य संपादिका मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
| भीतरी नहर || 11.20 || 2730
|-
| शिहवालसिहावल नहर || 75.30 || 27143
|-
| केवटी नहर || 90.00 || 45528
| पूर्वा नहर || 128.90 || 74084
|-
| गूढगुढ मउगंज नहर || 65.00 || 24654
|-
| तेओंथरत्योंथर उत्थापित नहर || 40.96 || 14161
|}
 
==राष्ट्र को समर्पित==
बाणसागर परियोजना की आधारशिला 14 मई 1978 को स्वर्गीय प्रधान मंत्री [[मोरारजी देसाई]] द्वारा रखी गई थी। परियोजना का निरीक्षण किया गया और मध्य प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री [[राम किशोर शुक्ल| पंडित राम किशोर शुक्ला]] के अंतहीन प्रयासों से हर पंचवर्षीय योजना में पर्याप्त धन आवंटित किया गया। बाणसागर बांध 25 सितंबर 2006 को स्वर्गीय प्रधान मंत्री [[अटल बिहारी वाजपेयी]] द्वारा देश को समर्पित किया गया।<ref>{{cite web |title=39 साल में पूरी हो पाई बाणसागर परियोजना, एशिया में नहीं ऐसी दूसरी मिसाल |url=https://aajtak.intoday.in/story/bansagar-to-irrigate-drought-prone-areas-of-three-states-1-1015804.html |publisher=आजतक |date=१५ जुलाई २०१८ |author=विवेक पाठक |access-date=6 नवंबर 2018 |archive-url=https://web.archive.org/web/20181107010104/https://aajtak.intoday.in/story/bansagar-to-irrigate-drought-prone-areas-of-three-states-1-1015804.html |archive-date=7 नवंबर 2018 |url-status=live }}</ref>
बेनामी उपयोगकर्ता

दिक्चालन सूची